कलेक्टर को सौंपा गया चिन्नौर चावल का पैकेट

चिन्नौर चावल का पैकेट प्रचार प्रसार के लिए भेंट किया गया

By: Bhaneshwar sakure

Updated: 14 Oct 2021, 09:47 PM IST

बालाघाट. मप्र में कृषि क्षेत्र की पहली जीआई प्राप्त करने वाले बालाघाट जिले की चिन्नौर धान के क्षेत्र विस्तार, उत्पादन, प्रसंस्करण व विपणन के लिए जिला प्रशासन और कृषि विभाग द्वारा व्यापक तैयारियां की गई है। कलेक्टर डॉ गिरीश कुमार मिश्रा द्वारा कृषि विभाग, आत्मा समिति व एफपीओ के लिए जारी निर्देशों के अनुसार आगामी खरीफ सीजन वर्ष 2022 में जिले में चिन्नौर उत्पादक कृषकों का चिन्हांकन कर उन्हें चिन्नौर का क्षेत्र व उत्पादन बढाने के लिए, कीट व बीमारी प्रबंधन करने संबंधी प्रशिक्षण दिया जाने के लिए निर्देशित किया गया है।
इसी क्रम में एफपीओ के माध्यम से जीआई टैग प्राप्त बालाघाट चिन्नौर चावल की ब्रांडिंग व मार्केटिंग को बढ़ावा के लिए प्रयास किये जा रहे है। जिससे चिन्नौर उत्पादक कृषकों को उच्चतम मूल्य प्राप्त हो सके। पशूचिकित्सा विभाग, उद्यान विभाग तथा मत्स्य विभाग के अधिकारियों की उपस्थिति में कृषि विभाग के अधिकारियों द्वारा कलेक्टर को चिन्नौर चावल के नमूने भेंट किए गए। उप संचालक कृषि राजेश खोब्रागढ़े ने बताया कि चिन्नौर चावल का पैकेट उसके प्रचार प्रसार के लिए भेंट किया गया है। जिले में आने वाले वीआईपी व वरिष्ठ अधिकारियों को चिन्नौर चावल के यह नमूने दिखाए जाएंगे। जिससे जिले के चिन्नौर उत्पादक किसानों को लाभ होगा।

Bhaneshwar sakure
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned