कॉलेज में मिलेगा निशुल्क प्रवेश, छात्रवृत्ति का पता नहीं

महाविद्यालय के पास नहीं स्पष्ट निर्देश, पिछले वर्ष मेद्यावी छात्रों को नहीं मिली थी छात्रवृति

By: Bhaneshwar sakure

Published: 24 Jul 2018, 09:33 PM IST

बालाघाट. उच्च शिक्षा विभाग के तहत इ-प्रवेश 2018-19 की प्रवेश प्रक्रिया आधे-अधूरे आदेश के साथ जारी कर दी गई। इस प्रवेश प्रक्रिया में मेद्यावी छात्रों और मुख्यमंत्री असंगठित मजदूर कल्याण योजना के तहत पंजीकृत परिवारों के बच्चों को महाविद्यालय में निशुल्क प्रवेश दिया जा रहा है। लेकिन जिन विद्यार्थियों को निशुल्क प्रवेश दिया जा रहा है उन्हें उच्च शिक्षा विभाग की छात्रवृति योजनाओं का लाभ मिलेगा या नहीं इसे लेकर विद्यार्थियों में असमंजस की स्थिति बनी हुई है। विद्यार्थियों का आरोप है कि महाविद्यालय आधे-अधूरे आदेश के साथ निशुल्क प्रवेश प्रक्रिया पूरी कर रहे है। दरअसल, गत वर्ष जिन विद्यार्थियों ने मुख्यमंत्री मेद्यावी विद्यार्थी योजना के अंतर्गत महाविद्यालयों में प्रवेश लिया था उन्हें छात्रवृति का लाभ नहीं मिल पाया। जिसके बाद इस सत्र में मेद्यावी छात्र और मुख्यमंत्री असंगठित मजदूर कल्याण योजना में पंजीकृत परिवारों के बच्चे निशुल्क प्रवेश लेने में आनाकानी कर रहे है। अग्रणी महाविद्यालय के प्राचार्य से जब इस संबंध में चर्चा की गई तो वह भी कुछ स्पष्ट नहीं बता पाए।
छात्र नेता अनमोल शर्मा ने कहा कि सरकार मेद्यावी छात्रों को निशुल्क प्रवेश तो दे रही है लेकिन उनके छात्रवृति का अधिकार छिनकर शोषण कर रही है। महाविद्यालय में प्रवेश की फीस ढाई हजार रुपये है जबकि एक वर्ष में 5 हजार की छात्रवृति मिलती है। मेद्यावी छात्र इस फीस को नहीं चुकाते हैं तो उन्हें छात्रवृति से वंचित होना पड़ता है। उन्होंने कहा अभी हाल के दिनों में महाविद्यालय में प्रवेश प्रक्रिया जारी है जिसमें निशुल्क प्रवेश दिए जा रहे है। लेकिन छात्रवृति योजनाओं का लाभ दिया जाएगा या नहीं, इसका स्पष्ट उल्लेख नहीं किया गया है।
गौरतलब है कि उच्च शिक्षा ग्रहण करने वाले विद्यार्थियों को भूिमहीन कृषि श्रमिक, गांव की बेटी योजना, प्रतिभा किरण योजना, विक्रमादित्य योजना, छात्राओं के लिए आवागमन सुविधा, उत्कृष्ट मेधावी छात्र पुरस्कार, असहाय छात्रों को छात्रवृति जैसी तमाम योजनाओं के तहत छात्रवृति मिलती है। विद्यार्थियों का कहना है कि उच्च शिक्षा विभाग का सक्षम अधिकारी या उच्च शिक्षा मंत्री शीघ्र ही इस बात को स्पष्ट करें कि विद्यार्थियों को इन छात्रवृति योजनाओं का लाभ दिया जाएगा या नहीं। यदि ऐसा नहीं होता है तो छात्रहित में आंदोलन किया जाएगा।
छात्रहित में आंदोलन किया जाएगा
निशुल्क प्रवेश लेने वाले विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति योजना का लाभ मिलेगा या नहीं, सरकार इसकी स्थिति स्पष्ट करें। यदि विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति का लाभ नहीं मिलता है तो छात्रहित में आंदोलन किया जाएगा।
- अनमोल शर्मा, छात्र नेता, एनएसयूआई
उच्च शिक्षा विभाग से जो निर्देश मिले है उसमें ऐसा कुछ नहीं कहा गया है कि छात्रवृति का लाभ नहीं मिलेगा। लेकिन बीते वर्ष मेद्यावी छात्रों को छात्रवृति नहीं मिली। यह स्पष्ट है कि इस वर्ष भी नहीं मिलेगी। महाविद्यालयों को चाहिए कि वह प्रवेश लेने के लिए आने वाले अनुसूचित जाति जनजाति के विद्यार्थियों को बताए कि उन्हें किस योजना से लाभ मिलना है।
-प्रवीण श्रीवास्तव, प्राचार्य, पीजी कॉलेज बालाघाट

Bhaneshwar sakure Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned