पूर्व सांसद मुंजारे और उनके साथियों पर अपराध दर्ज

रेत खदान में काम बंद कराने पहुंचे थे पूर्व सांसद

By: Bhaneshwar sakure

Published: 26 Jun 2020, 08:56 PM IST

बालाघाट. खैरलांजी क्षेत्र के ग्राम गुनई के वैनगंगा नदी में स्वीकृत रेत घाट में चल रहे कार्यों को बंद कराने के मामले में पूर्व सांसद मुंजारे और उनके साथियों पर अपराध दर्ज किया गया है। खैरलांजी निवासी अजय पिता स्व. शंकरलाल लिल्हारे (२७) की शिकायत पर खैरलांजी पुलिस ने पूर्व सांसद कंकर मुंजारे, ग्राम खुरसोड़ी निवासी इंदु लिल्हारे, खैरलांजी निवासी अजय उर्फ छोटू लिल्हारे सहित ११ लोगों के खिलाफ धारा १४७, १४८, २९४, ३२३, ३२७, ५०६ ताहि के तहत अपराध दर्ज किया है।
जानकारी के अनुसार ग्राम गुनई में स्वीकृत रेत खदान में ठेकेदार द्वारा रेत खनन का कार्य किया जा रहा था। २५ जून को पूर्व सांसद कंकर मुंजारे अपने साथियों के साथ गुनई स्थित रेत खदान पहुंचे। जहां उन्होंने रेत खनन को बंद कराने की बात कही। जिसको लेकर वहां कार्य कर रहे कर्मचारियों और पूर्व सांसद के बीच विवाद की स्थिति उत्पन्न हो गई। इसी दौरान वहां मारपीट भी हुई। इस मामले में अजय लिल्हारे द्वारा खैरलांजी थाने में शिकायत दर्ज कराई गई थी।
पुलिस ने बताया कि अजय लिल्हारे ने पूर्व सांसद सहित उनके साथियों द्वारा मारपीट किए जाने की शिकायत दर्ज कराई है। जिसके आधार पर अपराध दर्ज कर मामले को जांच में लिया गया है। अजय लिल्हारे के अनुसार २५ जून को वह रेत खदान में ट्रैक्टर के आवागमन के लिए रैम्प बनाने का कार्य कर रहा था। इसी दौरान वाहन क्रमांक यूपी ३२ केबी ४६८६ से पूर्व सांसद मुंजारे व उनके चार साथी और वाहन क्रमांक एमपी ०४ सीबी ७७५५ में इंदु लिल्हारे व उसके चार साथी मुंह पर नकाब बांधे पहुंचे थे। इसके अलावा बाइक से अजय उर्फ छोटू लिल्हारे भी पहुंचा था। इन सभी लोगों ने रेत खदान में चल रहे कार्य को बंद करा दिया। मारपीट करने लगे। वहीं खदान में कार्य कर रहे देवनलाल पटले, देवी लिल्हारे, जितेन्द्र द्विवेदी बीच बचाव करने पहुंचे तो उनके साथ भी मारपीट की गई। जिसकी शिकायत थाने में दर्ज कराई गई है।

Bhaneshwar sakure Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned