scriptCrime-प्रेम प्रसंग में पत्नी ने रची थी पति के हत्या की साजिश | Crime- Wife had plotted to murder husband due to love affair | Patrika News
बालाघाट

Crime-प्रेम प्रसंग में पत्नी ने रची थी पति के हत्या की साजिश

प्रेम प्रसंग के चलते पत्नी ने अपने पति के हत्या की साजिश रची। प्रेमी और उसके भाई के साथ तीनों ने मिलकर घटना को अंजाम दिया। कटंगी पुलिस ने इस मामले में पत्नी को पहले ही गिरफ्तार कर लिया था। वहीं प्रेमी और उसके भाई को बाद में गिरफ्तार किया है। बालाघाट/कटंगी. प्रेम प्रसंग के […]

बालाघाटJun 08, 2024 / 09:45 pm

Bhaneshwar sakure

हत्या की साजिश

कंट्रोल में रुम में जानकारी देते एएसपी

प्रेम प्रसंग के चलते पत्नी ने अपने पति के हत्या की साजिश रची। प्रेमी और उसके भाई के साथ तीनों ने मिलकर घटना को अंजाम दिया। कटंगी पुलिस ने इस मामले में पत्नी को पहले ही गिरफ्तार कर लिया था। वहीं प्रेमी और उसके भाई को बाद में गिरफ्तार किया है।
बालाघाट/कटंगी. प्रेम प्रसंग के चलते पत्नी ने अपने पति के हत्या की साजिश रची। प्रेमी और उसके भाई के साथ तीनों ने मिलकर घटना को अंजाम दिया। कटंगी पुलिस ने इस मामले में पत्नी को पहले ही गिरफ्तार कर लिया था। वहीं प्रेमी और उसके भाई को बाद में गिरफ्तार किया है। पुलिस ने इस मामले में तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।
प्रेमी, उसके भाई के साथ मिलकर गला घोटकर की थी पति की हत्या
स्थानीय कंट्रोल रुम में पत्रकारों से चर्चा करते हुए एएसपी विजय डाबर ने बताया कि नगर परिषद कटंगी की जलप्रदाय शाखा में कार्यरत कर्मचारी वार्ड क्रमांक 4 निवासी पवन तुलाराम नामदेव का शव 2 जून को उसके घर की छत पर मिला था। पवन की मौत संदेहास्पद थी। सूचना मिलने पर कटंगी पुलिस मौके पर पहुंची। पंचनामा कार्रवाई की। शव का पीएम कराकर परिजनों को सौंप दिया। पीएम रिपोर्ट के आधार पर प्रथम दृष्टया पवन नामदेव कि हत्या गला घोटकर किए जाना पाया गया। इस मामले में पुलिस ने धारा 302 भादंवि के तहत अपराध दर्ज कर प्रकरण को जांच में लिया। इस मामले में अज्ञात आरोपी का पता करने पुलिस टीम का गठन किया गया। पुलिस ने मृतक के पड़ोसियों और परिजनों से पूछताछ की। परिजनों ने मृतक की पत्नी सरिता नामदेव के ऊपर संदेह व्यक्त किया। पुलिस ने संदेह के आधार पर सरिता नामदेव को हिरासत में लिया। सीडीआर के आधार पर गहन पूछताछ की। जिसने अपने प्रेमी इम्तयाज आलम व उसका भाई असलम आलम निवासी मोतीहारी बिहार के साथ मिलकर घटना को अंजाम देने की बात स्वीकार की। सरिता ने पुलिस को बताया कि 1-2 जून की दरमियानी रात में पवन नामदेव की घर के अंदर ही गला घोटकर निर्मम हत्या की गई थी। पुलिस ने सरिता नामदेव को 3 जून को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया था।
प्रेमी और उसके भाई को भी पुलिस ने की गिरफ्तार
आरोपी सरिता नामदेव के सीडीआर साक्ष्य के आधार पर आरोपी इम्तेयाज आलम और उसके भाई असलम आलम को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया। दोनों ही आरोपियों से पुलिस ने पूछताछ की। आरोपी इम्तेयाज आलम ने पुलिस को बताया ऑनलाइन लूडो गेम खेलते समय सरिता नामदेव से उसकी जान पहचान हुई थी। इसी दौरान मोबाइल नंबरों का आदान-प्रदान भी हुआ। बातचीत के दौरान ही दोनों में प्रेम हो गया। करीब दो वर्ष पहले सरिता नामदेव के बुलाने पर वह कटंगी आया था। सरिता नामदेव ने उसके रुकने कि व्यवस्था की थी। दोनों में प्रेम प्रसंग बढ़ता गया। सरिता और प्रेमी इम्तियाज ने पवन नामदेव को रास्ते से हटाने की योजना बनाई। सरिता ने इम्तियाज को 24 मई को कटंगी बुलाया। पवन की हत्या करने के लिए आरोपी इम्तेयाज ने अपने भाई असलम आलम को भी बिहार से कटंगी बुलाया। 1 जून की दरम्यानी रात में सरिता नामदेव ने अपने प्रेमी इम्तेयाज आलम और उसके भाई असलम आलम के साथ मिलकर योजनाबद्ध तरीके से पवन नामदेव की हत्या कर दी गई।

Hindi News/ Balaghat / Crime-प्रेम प्रसंग में पत्नी ने रची थी पति के हत्या की साजिश

ट्रेंडिंग वीडियो