scriptDhuti Dam will be developed as a tourist destination | ढूटी डेम को पर्यटक स्थल के रुप में किया जाएगा विकसित | Patrika News

ढूटी डेम को पर्यटक स्थल के रुप में किया जाएगा विकसित

locationबालाघाटPublished: Nov 27, 2022 10:12:14 pm

Submitted by:

Bhaneshwar sakure

2 करोड़ 59 लाख रुपए की लागत से बनने वाली तीन सड़कों के लिए किया गया भूमिपूजन
जनप्रतिनिधि जागरुक बनकर जन समस्याओं को हल करें-मंत्री कावरे

ढूटी डेम को पर्यटक स्थल के रुप में किया जाएगा विकसित
ढूटी डेम को पर्यटक स्थल के रुप में किया जाएगा विकसित

बालाघाट. प्रदेश सरकार आम जनता के कल्याण के लिए अनेक योजनाओं का संचालन कर रही है। इन योजनाओं का लाभ आम जनता तक पहुंचे इसके लिए स्थानीय जनप्रतिनिधि को जागरूक होकर कार्य करने की जरूरत है। स्थानीय जनप्रतिनिधि जागरूक रहेगा तभी वह आमजन की समस्या को समझ सकेगा। उसका निराकरण करने के लिए पहल करने में सक्षम रहेगा। यह बातें मंत्री राम किशोर कावरे ने कही। वे 27 नवम्बर को ग्राम ओरम्हा, ढूटी, चनेवाड़ा में 2 करोड़ 59 लाख रुपए की लागत से बनने वाली सड़कों की डामरीकरण कार्य के भूमिपूजन समारोह को संबोधित कर रहे थे।
कार्यक्रम में सांसद डॉ. ढाल सिंह बिसेन, जपं बालाघाट अध्यक्ष फूलचंद सहारे, उपाध्यक्ष डॉ शंकर बिसेन, ग्रामीण यांत्रिकी सेवा के कार्यपालन यंत्री मुडिया, जपं सीईओ गायत्री कुमार सारथी, नायब तहसीलदार राजेंद्र टेकाम सहित अन्य मौजूद थे। मंत्री कावरे, सांसद डॉ बिसेन ने ढूटी में डेम का निरीक्षण किया। वहां पर पर्यटन संबंधी गतिविधियों को प्रोत्साहित करने के लिए किए जा सकने वाले कार्यों पर चर्चा की।
समारोह को संबोधित करते हुए मंत्री कावरे ने कहा कि ग्राम ठाकुर टोला से ओरम्हा, ढूटी और नगरवाड़ा से चनेवाड़ा सड़क का डामरीकरण होने से इस क्षेत्र में आवागमन की सुविधा बहुत अच्छी हो जाएगी। विशेषकर ढूटी डेम में आने वाले पर्यटकों को बहुत आसानी होगी। ढूटी को एक पर्यटक स्थल के रूप में विकसित किया जाएगा। यहां पर बुनियादी सुविधाओं का विस्तार किया जाएगा। पर्यटकोंं के आने से इस क्षेत्र में रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे।
सांसद डॉ ढाल सिंह बिसेन ने कहा कि केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री आवास योजना में आवासीहीन लोगों को पक्का मकान दिया है। प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना में प्रत्येक गांव को पक्की सड़क से जोड़ा गया है। जल जीवन मिशन के अंतर्गत हर घर में नल कनेक्शन के माध्यम से शुद्ध पेयजल पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है और इस पर तेजी से काम किया जा रहा है। समनापुर क्षेत्र में बिजली की समस्या से निजात पाने के लिए विद्युत उप केंद्र स्वीकृत किया गया है।
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.