छात्र-छात्राओं को दिया गया आपदा प्रबंधन प्रशिक्षण

स्टूडेंट पुलिस इकाई योजना

बालाघाट. शहर के पुलिस लाइन मैदान में स्टूडेंट पुलिस इकाई योजना अंतर्गत जिले के चयनित 5 स्कूलों के एक सैकड़ा छात्र-छात्राओं को होमगार्ड विभाग के जवानों ने आपदा प्रबंधन के तहत विशेष प्रशिक्षण दिया। इस अवसर पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रतिपाल सिंह महोबिया सहित अन्य अधिकारी कर्मचारी मौजूद रहे। उल्लेखनीय है कि कंेद्रीय गृह मंत्रालय एवं मानव संसाधन विकास मंत्रालय के संयुक्त तत्वाधान में स्टूडेंट पुलिस इकाई योजना के तहत 16 जुलाई से छात्र-छात्राओं को विभिन्न गतिविधियों के तहत प्रशिक्षण प्रदान किया जा रहा है।
स्टूडेंट पुलिस इकाई योजना के तहत एक निर्धारित पाठ्यक्रम शुरू किया गया है। इसके तहत छात्र-छात्राओं को अपराध की रोकथाम एवं संवाद शिष्टाचार टीम वर्ग में मानव के कारक प्रभाव एवं निवारण, अनुशासन, जेंडर सेन्सीटाइजेशन, पोषक आहार एवं स्वच्छता, भारत का संविधान, भारतीय संविधान की विशेषताएं, पुलिस व्यवस्था, साइबर अपराध, सहनशीलता, बड़ों को आरती, सम्मान, शिष्टाचार, पर्यावरण संरक्षण, आतंकवाद, सड़क सुरक्षा एवं यातायात जागरूकता के प्रमुख रूप से विषय शामिल है।
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने बताया कि शासन की योजना के तहत कक्षा आठ एवं कक्षा नवमीं के बच्चों को पुलिस से संबंधित आवश्यक प्रशिक्षण दिया जा रहा है। ताकि वे नैतिक विकास कर सके और समाज में होने वाली समान गतिविधियों से अवगत हो। उन्होंने कहा कि यह प्रशिक्षण छात्रों के लिए काफी उपयोगी साबित होगा। जिसके तहत आज उन्होंने प्रबंधन के विषय पर प्रशिक्षण प्रदान किया। इस दौरान प्रमुख रूप से अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक व नोडल अधिकारी प्रतिपाल सिंह महोबिया, प्रशिक्षक नरेन्द्र सिंह परिहार, होमगार्ड एसआई विश्वकर्मा, एएसआई महेश उइके, हवलदार रामेश्वर परिहार, उत्कृष्ट स्कूल से डीएस अग्रवाल, सरला भिमटे, माध्यमिक शाला सरेखा से यूएस चौधरी, कुसुमलता बनवाले, माध्यमिक शाला कोसमी से प्रकाश गौतम, उत्तम ठाकरे, एमएलबी स्कूल से कल्चुरी सर, रामेश्वरी पटले, माध्यमिक शाला बूढ़ी से आरएस धुर्वे, विजयलक्ष्मी श्रीवास सहित बड़ी संख्या में स्कूली विद्यार्थी उपस्थित रहे।

mukesh yadav Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned