डिस्ट्रिक्ट कमाण्डेट की पुत्री ने फांसी लगा की आत्महत्या

डिस्ट्रिक्ट कमाण्डेट की पुत्री ने फांसी लगा की आत्महत्या

Mahesh Kumar Doune | Publish: Sep, 11 2018 06:26:58 PM (IST) | Updated: Sep, 11 2018 06:40:43 PM (IST) Balaghat, Madhya Pradesh, India

डिस्ट्रिक्ट कमाण्डेट होमगार्ड गणेशप्रसाद पन्द्रे की २६ वर्षीय पुत्री धनेश्वरी ने अपने कमरे के पंखे मेें फांसी लगा अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली।

बालाघाट. डिस्ट्रिक्ट कमाण्डेट होमगार्ड गणेशप्रसाद पन्द्रे की २६ वर्षीय पुत्री धनेश्वरी ने शासकीय बंगले के अपने कमरे के पंखे मेें फांसी लगा अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली। इसकी सूचना कोतवाली पुलिस को मिलने पर एसआई मनोज जादौन सहित हमराह स्टॉप ने मौके पर पहुंच आवश्यक कार्रवाई की। घटना के समय कमाण्डेट पन्द्रे कार्यालय में थे जब दोपहर करीब १.३० बजे वापस घर लौटे तो इसकी जानकारी मिली। पुलिस ने शव का पंचनामा कार्रवाई कर पोस्टमार्टम के लिए शव भिजवाया। बताया गया कि मृतिका का अंतिम संस्कार उनके गृह ग्राम गुबरिया तहसील केवलारी में १२ सितम्बर को किया जाएंगा।
कार्यालय से घर पहुंचने पर मिली जानकारी
इस संबंध में डिस्ट्रिक्ट कमाण्डेट पन्द्रे ने बताया कि पत्नी के बड़े भाई (साले) का निधन हो जाने पर ११ सितम्बर की सुबह करीब १०.३० बजे नैनपुर गई। सुबह ११ बजे अपने कार्यालय चले गया था घर में मेरी बेटी धनेश्वरी व छोटा बेटा राहुल उर्फ विजेन्द्र था। एक बेटी नीलम कोचिंग गई थी। दोपहर करीब १.३० बजे कार्यालय से ***** के ही अंतिम संस्कार कार्यक्रम में शामिल होने नैनपुर जाने वापस घर लौटा। घर में राहुल टीवी देख रहा था जिससे बोला की धनेश्वरी कहा है। राहुल ने बोला कि अपने कमरे में है। जिससे राहुल से कहा कि दीदी से पूछ लो मैं नैनपुर जा रहा हूं चलना हो तो, जब राहुल अपनी दीदी के कमरे में जाकर आवाज दिया तो अंदर से दरवाजा बंद था। कांच से देखा तो फंदे पर पंखे से लटकी थी जिसकी जानकारी मुझे दी। इस बारे में विभाग के लोगों को सूचना दे कोतवाली थाना में भी सूचना दी। उन्होंने बताया कि मृतिका एमए की पढ़ाई कर जांब के लिए तैयारी कर रही थी।
एक दिन पूर्व मां से हुई थी अनबन
मृतिका के पिता पन्द्रे ने बताया कि एक दिन पूर्व घर में धनेश्वरी बेसन की सब्जी बना रही थी। सब्जी उबाल आने पर चूल्हे में रखे बर्तन से उफनकर गिरने लगी। इस दौरान बेटी का ध्यान मोबाइल पर होने से उसकी मां द्वारा खाना बनाते समय मोबाइल पर ध्यान होने की बात कर डॉट लगाने से थोड़ी अनबन हुई थी। लेकिन रात में मां के साथ भोजन किया। किसी तरह की कोई परेशानी नहीं थी। पुत्री ने इतना बड़ा कदम क्यों उठाया कारण अज्ञात है। मृतिका तीन बहन व एक भाई है। जिसमें ये दूसरे नंबर की थी बड़ी बहन की शादी हो चुकी है।
इनका कहना है
कमाण्डेट साहब की पुत्री के फांसी लगाने की सूचना मिलने पर अपने स्टॉप के साथ मौके पर पहुंचे। शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम करवाया गया। फांसी लगाने का कारण अज्ञात है। मर्ग कायम कर जांच की जा रही है।
मनोज जादौन, उप निरीक्षक कोतवाली

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned