scriptDoctors have not been posted nor are the facilities available villager | डॉक्टरों की पदस्थापना हुई न ग्रामीणों को मिल रही सुविधाएं | Patrika News

डॉक्टरों की पदस्थापना हुई न ग्रामीणों को मिल रही सुविधाएं

उपस्वास्थ्य केन्द्रों को वेलनेस सेंटर के रुप में किया गया है अपगे्रड
लाखों रुपए खर्च, नतीजा सिफर
जिले में 180 उपस्वास्थ्य केन्द्रों को किया गया है अपग्रेड

बालाघाट

Published: March 29, 2022 10:06:15 pm

बालाघाट. डॉक्टरों की पदस्थापना हुई न ग्रामीणों को समुचित स्वास्थ्य सुविधाएं मिल पा रही है। आलम यह है कि शासन द्वारा लाखों रुपए खर्च कर जिले के उपस्वास्थ्य केन्द्रों को वेलनेस सेंटर के रुप में अपग्रेड तो कर दिया गया है। लेकिन वेलनेस सेंटर के अनुसार केन्द्रों में सुविधाएं उपलब्ध नहीं कराई जा रही है। जिले में अभी तक 180 उपस्वास्थ्य केन्द्रों को वेलनेस सेंटर के रुप में अपग्रेड किया गया है। जबकि आगामी भविष्य में 40 केन्द्रों को और अपग्रेड किए जाने की योजना है।
जानकारी के अनुसार जिले में 338 उपस्वास्थ्य केन्द्र संचालित है। शासन के आदेश के बाद इन उपस्वास्थ्य केन्द्रों में से 180 को वेलनेस सेंटर (आरोग्यमï् केन्द्र) के रुप में अपग्रेड कर दिया गया है। जबकि आगामी भविष्य में 40 और केन्द्रों को अपग्रेड करने की योजना है। लेकिन जिन केन्द्रों को अपग्रेड किया गया है, वहां अभी भी सुविधाएं उपलब्ध नहीं है। उपस्वास्थ्य केन्द्रों में जिस तरह की सुविधाएं थी, वैसी ही सुविधाएं अभी भी वेलनेस सेंटरों में बनी हुई है। अपग्रेडेशन के नाम पर केवल भवन ही नया बना है। इधर, उपस्वास्थ्य केन्द्रों को अपग्रेड करने के बाद ग्रामीणों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मिलने की उम्मीद थी, लेकिन उनकी उम्मीदों पर अब पानी फिर रहा है। विदित हो कि ग्रामीण क्षेत्रों में गर्भवती महिलाओं के प्रसव से लेकर अन्य सभी आवश्यक उपचार इन वेलनेस सेंटरों में किए जाने की योजना थी। शासन ने इसके लिए प्रयास किए लेकिन सुविधाएं मुहैया नहीं कराई है। आज भी वेलनेस सेंटर पुराने उपस्वास्थ्य केन्द्रों की भांति ही संचालित हो रहे हैं।
लाखों रुपए किए गए हैं खर्च
उपस्वास्थ्य केन्द्रों को वेलनेस सेंटर में अपग्रेड करने के लिए शासन द्वारा 7 से 8 लाख रुपए खर्च किए गए हैं। लेकिन जिस मंशा से शासन ने इन केन्द्रों को अपग्रेड किया है और राशि खर्च की है, उसके अनुसार सुविधाएं मुहैया नहीं कराई जा रही है। जिसके कारण समस्या जस की तस बनी हुई है। विदित हो कि जिले के सभी विकासखंडों में उपस्वास्थ्य केन्द्रों को अपग्रेड करने का कार्य किया जाना है। मौजूदा समय में 180 केन्द्रों को अपग्रेड कर दिया गया है।
डॉक्टरों, कर्मचारियों की कमी
अपग्रेड होकर वेलनेस सेंटर बने उपस्वास्थ्य केन्द्रों में डॉक्टरों, कर्मचारियों की कमी बनी हुई है। इन वेलनेस सेंटर में एक एमबीबीएस चिकित्सक या अन्य चिकित्सकों की पदस्थाना किए जाने की योजना थी, लेकिन प्रदेश में ही डॉक्टरों की कमी के चलते वेलनेस सेंटरों में डॉक्टरों की पदस्थापना नहीं हो पाई है। यह स्थिति किसी एक केन्द्र की नहीं है। बल्कि सभी केन्द्रों में ऐसा ही हाल बना हुआ है। पुराने ढर्रे पर अभी वेलनेस सेंटरों का संचालन हो रहा है।
उपचार के लिए झोलाछाप डॉक्टरों पर निर्भर
ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को उपचार के लिए झोलाछाप डॉक्टरों पर निर्भर रहना पड़ता है। दरअसल, उपस्वास्थ्य केन्द्रों (वेलनेस सेंटर) में डॉक्टरों की पदस्थापना नहीं होने से यह समस्या बनी हुई है। इधर, झोलाछाप डॉक्टर द्वारा समुचित उपचार नहीं किए जाने के बाद ग्रामीण जिला मुख्यालय या पड़ोसी राज्य के जिलों में निजी चिकित्सकों के पास महंगा इलाज कराने विवश है। खासतौर पर यह समस्या जिले के सीमावर्ती क्षेत्रों में सर्वाधिक बनी हुई है। स्वास्थ्य सुविधाओं की कमी से जिले के सीमावर्ती विकासखंड बैहर, बिरसा, परसवाड़ा, लांजी, खैरलांजी, कटंगी के ग्रामीण अधिक जूझ रहे हैं। यह समस्या वर्षों से बनी हुई है। लेकिन इसका निराकरण अभी तक नहीं हो पाया है।
डॉक्टरों की पदस्थापना हुई न ग्रामीणों को मिल रही सुविधाएं
डॉक्टरों की पदस्थापना हुई न ग्रामीणों को मिल रही सुविधाएं

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्सयहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतिशुक्र का मेष राशि में गोचर 5 राशि वालों के लिए अपार 'धन लाभ' के बना रहा योगराजस्थान के 16 जिलों में बारिश-आंधी व ओलावृ​ष्टि का अलर्ट, 25 से नौतपाजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथइन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठा7 फुट लंबे भारतीय WWE स्टार Saurav Gurjar की ललकार, कहा- रिंग में मेरी दहाड़ काफीशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफ

बड़ी खबरें

जापान में पीएम मोदी का जोरदार स्वागत, टोक्यो में जापानी उद्योगपतियों से की मुलाकातज्ञानवापी मस्जिद मामलाः सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हुई एक और याचिका, जानिए क्या की गई मांगऑक्सफैम ने कहा- कोविड महामारी ने हर 30 घंटे में बनाया एक नया अरबपति, गरीबी को लेकर जताया चौंकाने वाला अनुमानसंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजरबिहार में भीषण सड़क हादसा, पूर्णिया में ट्रक पलटने से 8 लोगों की मौतश्रीनगर पुलिस ने लश्कर के 2 आतंकवादियों को किया गिरफ्तार, भारी संख्या में हथियार बरामदGood News on Inflation: महंगाई पर चौकन्नी हुई मोदी सरकार, पहले बढ़ाई महंगाई, अब करेगी महंगाई से लड़ाईकोरोना वायरस का नहीं टला है खतरा, डेल्टा-ओमिक्रॉन के बाद अब दो नए सब वैरिएंट की दस्तक से बढ़ी चिंता
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.