संविलियन की मांग को लेकर रोजगार सहायकों ने दिया धरना, सौंपा ज्ञापन

मप्र ग्राम रोजगार सहायक संघ के प्रांतीय आव्हान शुक्रवार को रोजगार सहायकों ने धरना प्रदर्शन किया। यह प्रदर्शन अलग-अलग ब्लॉकों में हुआ।

By: Bhaneshwar sakure

Updated: 18 Aug 2017, 09:28 PM IST

बालाघाट. मप्र ग्राम रोजगार सहायक संघ के प्रांतीय आव्हान शुक्रवार को रोजगार सहायकों ने धरना प्रदर्शन किया। यह प्रदर्शन अलग-अलग ब्लॉकों में हुआ। किरनापुर और लांजी ब्लॉक के ग्राम रोजगार सहायक संघ द्वारा शुक्रवार को एक दिवसीय सामूहिक अवकाश लेकर जपं के समक्ष धरना दिया। वहीं एसडीएम, जपं सीईओ को ज्ञापन भी सौंपा। वहीं बैहर के रोजगार सहायकों ने रैली निकालकी प्रदर्शन किया।
किरनापुर में भी हुआ प्रदर्शन
ग्राम रोजगार संघ के अध्यक्ष योगेन्द्र ढेकवार, संघ प्रवक्ता नवीन श्रीवास ने बताया कि शासन द्वारा मनरेगा के तहत रोजगार सहायकों की नियुक्ति की है। रोजगार सहायकों द्वारा सचिव के समांनातर कार्य भी कर रहे हैं। लेकिन उन्हें आज तक नियमित नहीं किया गया है। 1 अप्रैल 2008 को मप्र में कार्यरत हमारे ही संवर्ग के ग्राम पंचायत सचिवों को 1600 रुपए प्रतिमाह मानदेय से बढ़ाकर उन्हें एक निश्चित वेतनमान और वर्तमान प्रचलित महंगाई भत्ते पर नियमित किया जा कर जिला संवर्ग में वर्ष 2011 में शामिल किया गया है। लेकिन रोजगार सहायकों के साथ ऐसा नहीं किया गया है।
नियत वेतनमान देने की मांग
एक निश्चित वेतनमान देकर सेवा शर्तों का निर्धारण कर पंचायत सचिव की भांति जिला संवर्ग में विलय किए जाने के लिए संगठन की कार्रवाई प्रस्तावित है। उन्होंने रोजगार सहायकों को नियमित किए जाने की मांग भी की है। इधर, ग्राम रोजगार सहायकों की मांगों का समर्थन जिपं सदस्य गौरी उपवंशी, जनपद अध्यक्ष दुर्गा खोटेले, जनपद उपाध्यक्ष हिम्मतलाल गढ़वंशी, रामप्रसाद चौधरी सहित ने की है। ये जनप्रतिनिधि रोजगार सहायकों के प्रदर्शन स्थल भी पहुंचे थे। इस अवसर पर संघ अध्यक्ष योगेन्द्र ढेकवार, सचिव सलीराम लिल्हारे, रामचंद खरे, नवीन श्रीवास, राम तेलासे, अशोक मानेश्वर, लक्ष्मीकांत टेटे, धनेन्द्र पटले, धनंजय नागवंशी, सचिन शिवाले, दीपक जामरे, रीमा रावते, नंदकिशोर कावरे सहित अन्य मौजूद थे।
बैहर में भी सौंपा ज्ञापन
रोजगार सहायक संघ बैहर ने शुक्रवार को रैली निकाली। नगर का भ्रमण किया। इसके बाद अपनी विभिन्न समस्याओं का ज्ञापन प्रशासनिक अधिकारी को सौंपा।

Bhaneshwar sakure Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned