आवारा मवेशियों के कारण आए दिन हो रही घटनाएं

रात्रि में मुख्य मार्ग में ही डेरा डालकर बैठ जाते हैं मवेशी

By: Bhaneshwar sakure

Published: 19 Jan 2019, 08:56 PM IST

बालाघाट. नगर मुख्यालय सहित जिले में आवारा मवेशियों की धमाचौकड़ी बनी रहती है। जिसके कारण न केवल आवागमन बाधित होता है। बल्कि दुर्घटनाएं भी हो रही है। इसका ताजा उदाहरण औद्योगिक नगरी गर्रा में बीती रात्रि नजर आया। यहां पर मुख्य मार्ग पर आवारा मवेशी बैठे हुए थे, जो एक चौपहिया वाहन की चपेट में आ गए। इस घटना में वाहन क्षतिग्रस्त हुआ। जबकि एक पालतु मवेशी की मौत हो गई। वहीं तीन घायल हो गए।
जानकारी के अनुसार बीती रात्रि एक ट्रक ड्राइवर द्वारा वैनगंगा नदी के सामने हाइवे रोड पर ग्राम रेंगाटोला टर्निग पॉइंट के पास 4 मवेशियों को कुचल दिया गया। इस घटना में वाहन के क्षतिग्रस्त होने के साथ-साथ एक मवेशी की मौत हो गई। वहीं तीन मवेशी गंभीर रुप से घायल हो गए। जिन्हें रात्रि में ही उपचार के लिए पशु चिकित्सालय भेजा गया था। यह घटना रात्रि करीब १२ बजे हुई थी। इस घटना की सूचना मिलते ही समाजसेवी मनोज टेंभरे, कांग्रेसी नेता विशाल बिसेन, जनपद सदस्य वैभव बिसेन, मोनू भगत, संजय ऐड़े, सुरेश दमाहे सहित अन्य मौके पर पहुंचे। सभी की सहायता से ट्रक में फंसे मवेशियों को बाहर निकाला गया। वहीं सूचना मिलने पर मौके पर पुलिस बल भी पहुंचा। वाहन चालक को हिरासत में लिया। समाजसेवी मनोज टेंभरे ने कहा कि ऐसी घटनाओं से बचने के लिए मवेशियों के मालिकों को हिदायत देनी चाहिए। ताकि वे अपने मवेशियों को आवारा न छोड़े। इसके बाद भी मवेशी मालिक नहीं मानते हैं तो उनके खिलाफ कार्रवाई किया जाना चाहिए।

Bhaneshwar sakure
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned