scriptFiber line was being laid in the forest area without permission. | वन क्षेत्र में बगैर अनुमति के फाइबर लाइन बिछाने किया जा रहा था खनन | Patrika News

वन क्षेत्र में बगैर अनुमति के फाइबर लाइन बिछाने किया जा रहा था खनन

वन विभाग ने जब्त की पांच जेसीबी मशीनें

बालाघाट

Published: December 02, 2021 09:54:35 pm

बालाघाट. वन विभाग के परिक्षेत्र पूर्व लांजी (सामान्य) अंतर्गत चौरिया वृत्त के बकरकट्टा, जैतपुरी व बिलालकसा में जियो आप्टिकल फाइबर लाइन बिछाने के लिए वन विभाग की अनुमति के बिना अवैध रूप से किए जा रहे उत्खनन को वन विभाग के अधिकारियों ने रोक दिया है और इस कार्य में लगी 5 जेसीबी मशीनों को जब्त कर लिया गया है।
पूर्व लांजी परिक्षेत्र अति संवेदनशील क्षेत्र होने के कारण और वर्तमान में नक्सल घटनाओ में वृद्धि होने पर रिलायंस जियो के द्वारा जेसीबी मशीन से बेखौफ नियमों को ताक पर रखकर वनक्षेत्र में उत्खनन का कार्य किया जा रहा था। जिसकी सूचना उडऩदस्ता वनवृत्त बालाघाट को मिलने पर मुख्य वन संरक्षक वनवृत्त बालाघाट नरेंद्र कुमार सनोडिया के आदेशानुसार प्रभारी उडऩदस्ता वनवृत्त बालाघाट के मार्गदर्शन में शिशुपाल गणवीर वनपाल, नरेंद्र कुमार शेन्डे, विजयभान नागेश्वर, तिलक सिंह राहंगडाले, सौरभ यादव, दिलीप पालेवार वनरक्षक, सुखलाल मड़ावी, संजय मरकाम स्थाईकर्मी और शंभू यादव द्वारा मौका स्थल पर पहुंचकर 5 जेसीबी मशीन को जब्त किया गया। इस कार्रवाई में एमएच ३५ एजी ७४७३, एमपी ५० डीए ०४३०, एमपी ५० डीए ०८९४, एमपी ५० डीए ०९२७ और एमपी ५० डीए ०६२४ को जब्त करने की कार्रवाई की गई है।
उडऩदस्ता दल के मौके पर पहुंचते ही वहां पर अफरा-तफरी मच गई। चालक वाहन छोड़कर फरार हो गए। जिनको जप्त कर वन परिक्षेत्र अधिकारी पूर्व लांजी सामान्य को सूचित कर मौका पंचनामा बनाकर जब्त 5 जेसीबी मशीनों को उनके सुपुर्द कर विधिवत कार्रवाई की गई। प्रकरण के संबंध में वनमण्डल अधिकारी दक्षिण सामान्य वनमण्डल बालाघाट को जानकारी दे दी गई है। प्रकरण में विवेचना जारी है। मशीन ने वनांचल में बसे गांवो के कच्चे मार्गों को भी बुरी तरह प्रभावित किया है जिससे ग्रामीणों में आक्रोश है। प्राप्त जानकारी अनुसार यह कार्य ठेकेदार वेद पटेल छिन्दवाड़ा के द्वारा करवाया जा रहा है और स्थानीय जनों के जेसीबी मशीन का उपयोग यह कहते हुए किया जा रहा है कि उन्हे विभाग से अनुमति प्राप्त हो गई है जबकि वनमण्डल स्तर पर उक्त उत्खनन कार्य के लिए कोई आवेदन आज दिनांक तक प्राप्त नहीं हुआ है।
वन क्षेत्र में बगैर अनुमति के फाइबर लाइन बिछाने किया जा रहा था खनन
वन क्षेत्र में बगैर अनुमति के फाइबर लाइन बिछाने किया जा रहा था खनन

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Army Day 2022: सेना प्रमुख MM Naravane ने दी चीन को चेतावनी, कहा- हमारे धैर्य की परीक्षा न लेंUP Election 2022 : भाजपा उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी, गोरखपुर से योगी व सिराथू से मौर्या लड़ेंगे चुनावUttar Pradesh Assembly Elections 2022: टूटेगी मायावती और अखिलेश की परंपरा, योगी आदित्यनाथ गोरखपुर से लड़ेंगे विधानसभा चुनावPunjab Assembly Election: कांग्रेस ने जारी की 86 उम्मीदवारों की पहली सूची, चमकोर से चन्नी, अमृतसर पूर्व से सिद्धू मैदान मेंअब हर साल 16 जनवरी को मनाया जाएगा National Start-up DayHaryana: सरकार का निर्देश, बिना वैक्सीन लगाए 15 से 18 वर्ष के बच्चों को स्कूल में नहीं मिलेगी एंट्रीUP Election: सपा RLD की दूसरी लिस्ट जारी, 7 प्रत्याशियों में किसी भी महिला को नहीं मिला टिकटजम्मू कश्मीर में Corona Weekend Lockdown की घोषणा, OPD सेवाएं भी रहेंगी बंद
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.