पहले बारिश और अब आग करा रही नुकसान

पहले बारिश और अब आग करा रही नुकसान

Bhaneshwar sakure | Publish: Nov, 15 2017 12:04:13 PM (IST) Balaghat, Madhya Pradesh, India

तीन किसानों की धान जलकर हुई खाक

बालाघाट. लालबर्रा क्षेत्र के ग्राम पंचायत पाथरशाही में यात्री प्रतीक्षालय के समीप बने खलीहान में 12 व 13 नवंबर की मध्य रात्रि आग लगने से तीन किसानों की धान जलकर स्वाहा हो गई। जिसके कारण किसानों को काफी आर्थिक क्षति हुई है।
ग्राम सरपंच डिलेशसिंह ठाकुर ने बताया कि इस खलिहान में तीन कृषकों की कटी फसल की खरी रखी हुई थी। रात्रि में लघुशंका के लिए उठे ग्रामीण गुदाजी वाहमुनेर ने घटना की जानकारी दी जिसके बाद सभी ग्रामीणों की मदद से आग बुझाई गई। यदि समय रहते आग पर काबू नहीं पाया जाता तो और भी खराई में आग लग सकती थी। बड़ी अनहोनी भी हो सकती थी। उन्होंने बताया कि लोचनलाल बिसेन की 20 हजार, मुलचंद टेंभरे की 12 हजार और मंगलप्रसाद कटरे की 18 हजार रुपए की धान जलकर खाक हो गई। इन तीनों ही किसानों को करीब 50 हजार रुपए का नुकसान हुआ है। घटना की जानकारी पटवारी को दे दी गई है जिनके द्वारा पंचनामा कार्यवाही कर प्रकरण शासन को प्रेषित किया जाएगा। आग बुझाने में गुलाब टेंभरे, राज बिसेन, रवि बिसेन, चुन्नीलाल बिसेन, छबिलाल बिसेन, गुलाब बिसेन, भागनबाई, आसू बिसेन, शानू बिसेन, डिलेश बिसेन, बाबा पारधी व पारस बिसेन सहित अन्य अन्य का योगदान रहा है।
सर्वे कराकर मुआवजा दिए जाने की मांग
बालाघाट. भरवेली क्षेत्र के किसानों ने सर्वे कराकर मुआवजा दिए जाने की मांग की है। किसानों का कहना है कि अल्पवर्षा और कीट-व्याधि के प्रकोप से ५० प्रतिशत से अधिक फसल खराब हो चुकी है। जिसके कारण किसानों को काफी आर्थिक क्षति हुई है। भरवेली वार्ड क्रमांक १६ निवासी एसआर गराड़े ने बताया कि पीडि़त किसानों ने जनसुनवाई में भी पहुंचकर इस समस्या से प्रशासनिक अधिकारियों को अवगत कराया है। प्रशासनिक अधिकारियों की उदासीनता के चलते अब किसानों ने आक्रोश पनपने लगा है। उन्होंने बताया कि किसानों ने इस वर्ष जैसे-तैसे बीज बोकर धान की रोपाई की। लेकिन समय पर बारिश नहीं हो पाई। इसके बाद भी किसानों ने रोपाई का कार्य किया। जैसे-तैसे धान बढ़ी, उस पर कीटों का प्रकोप होने लगा। जिसके कारण धान की फसल ५० प्रतिशत से अधिक खराब हो चुकी है।
इन किसानों की फसल हुई खराब
श्रीराम पिता लखीराम गराड़े, मोतन बाई पति हरीराम गराड़े, श्यामलाल बिसेन, जैनलाल बसेने, धनलाल बसेने, रतन सुलके, अनुपचंद घोटेकर, तिलकचंद सौलखे, बालचंद लिल्हारे, कन्हैयालाल लिल्हारे, अशोक लिल्हारे, भागरता बाई लिल्हारे, सम्पता बाई लिल्हारे, सीता बाई मंडिया, तिलकचंद मंडिया, श्यामलाल सुलके, उमेन्द्र सिहोरे, दीपक राहंगडाले, कैलाश राहंगडाले, शिवलाल राहंगडाले, देवलाल बनोटे, देवेन्द्र बिसेन, छन्नूलाल बनोटे, लालचंद राहंगडाले सहित अन्य किसानों की फसलें खराब हो चुकी है। पीडि़त किसानों ने शीघ्र सर्वे कराकर मुआवजा दिए जाने की मांग की है।
दस वाहन चालकों से वूसला जुर्माना
लालबर्रा-राज्य मार्ग 26 सिवनी-बालाघाट मार्ग पर पुलिस ने वाहन चेकिंग अभियान शुरु किया। इस दौरान यातायात नियमों का पालन नहीं करने वाले दस वाहन चालकों से जुर्माना भी वसूला गया। थाना प्रभारी कमलसिंह ठाकुर ने बताया कि सड़क दुर्घटनाओं में अधिकतर मौत सर पर चोट लगने के कारण बगैर हेलमेट वाहन चालकों की होती है। शासन-प्रशासन द्वारा जनजागृती लाने के उदेश्य से समय-समय पर यातायात सबंधी अभियान चलाए जाते हंै। ताकि दुर्घटनाओं पर अंकुश लगाया जा सके। थाना प्रभारी ने सभी दोपहिया वाहन चालकों से बगैर हेलमेट के वाहन न चलाने की अपील की है। इस कार्रवाई के दौरान थाना प्रभारी कमलसिंह ठाकुर, प्रधान आरक्षक भूमेश्वर वामनकर, आरक्षक प्रवेश वर्मा व नरेन्द्रसिंह रघुवंशी सहित अन्य मौजूद थे।

Ad Block is Banned