जिला अस्पताल में बांटे फल, गरीबों को दिया कंबल

Mukesh Yadav

Updated: 16 Jan 2020, 04:39:11 PM (IST)

Balaghat, Balaghat, Madhya Pradesh, India

बालाघाट। अज्ञानता के कारण देश का अनुसूचित जाति, जनजाति और ओबीसी वर्ग गुलामों की जिंदगी जी रहा था। जिन्हें सशक्त बनाने का काम बसपा के नेता कांशीराम और मायावती ने किया। बहन मायावती ने कांशीराम के साथ और उसके बाद लगातार संघर्ष कर बसपा को मजबूत किया। जिन्होंने संसद में बहुजन समाज की बात नही सुनने पर अपनी संसदीय त्याग दी। ऐसा नेता मायावती का हम आज 64 वां जन्मदिन मना रहे हंै। यह बात जन कल्याणकारी दिवस को संबोधित करते हुए कार्यक्रम के अतिथि जबलपुर मुख्य जोन प्रभारी दिलीप बौद्ध ने कही।
शहर के आम्बेडकर चौक में 15 जनवरी को बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती का 64 वां जन्मदिन बसपा ने जन कल्याणकारी दिवस के रूप में मनाया। यहां मुख्य अतिथि की आसंदी से कार्यक्रम में मौजूद रहे जोन प्रभारी दिलीप बौद्ध कहा कि देश की सबसे बड़ी ताकत अनुसूचित जाति, जनजाति और ओबीसी वर्ग को भाजपा और कांग्रेस ने गुमराह करने काम किया। लेकिन अब समय आ गया है कि हमें एकजुट होना होगा और केवल बहुजन की बात करनी होगी। हमें अपनी ताकत को पहचाना होगा। हमें अब किसी के बहकावे में नहीं आना है।
समारोह का आयोजन जबलपुर मुख्य जोन प्रभारी दिलीप बौद्ध के मुख्य आतिथ्य, वरिष्ठ बसपा नेता अजाब शास्त्री के विशिष्ट आतिथ्य, जिपं सदस्य दुर्गेश बिसेन, राजकुमार कावरे, दिनेश पंचेश्वर, बैरागसिंह तेकाम, शिव जायसवाल के विशेष आतिथ्य और बसपा जिलाध्यक्ष देवराज भोयर की अध्यक्षता में किया गया। इस दौरान बसपा और मायावती को लेकर बनाए गए गीतों की प्रस्तुति भी दी गई। जरूरतमंदों को ठंड से बचाव के लिए कंबल और मिठाइयों का वितरण किया गया। कार्यक्रम में जिला मुख्यालय सहित दूरदराज से पहुंचे बसपा पदाधिकारी और कार्यकर्ता उपस्थित थे।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned