हैंडपंपों का किया गया सुधार, डाले पाइप लगाए हैंडल

पत्रिका खबर का असर
ग्रामींणों को अब पेयजल के नहीं खोदना पड़ेगा नदी में गढ्डा

By: mukesh yadav

Published: 23 May 2020, 07:51 PM IST


बालाघाट. जिले की धार्मिक नगरी रामपायली के ग्रामींणों को अब पीने के पानी के लिए परेशान नहीं होना पड़ेगा। पत्रिका खबर के बाद हरकत में आए पीएचई विभाग के जिम्मेदारों ने रामपायली का दौरा कर खराब पड़े हैंडपंपों व नलों का जायजा लिया। इसके बाद ऐसे जल स्त्रोतों को चिन्हित कर उनका सुधार कार्य शुरू कर दिया गया है। पहले दिन रामपायली व कस्बीटोला के सात हैंडपंपों का सुधार कार्य किया गया है। अब इन हैंडपंपों से आसानी से पानी निकलने लगा हैं और जंग युक्त की समस्या से भी निजात दिलवा दी गई है।
जानकारी के अनुसार भीषण गर्मी पडऩे के कारण रामपायली की चनई नदी सूख गई है। वहीं जल स्तर काफी नीचे चले जाने से क्षेत्र के तालाब और कुंओं में भी एक बूंद पानी नहीं बचा है। क्षेत्र के हैंडपंप खराब हो गए थे। वहीं कुछ में बोर कराने के बाद पाइप लाइन नहीं डाली गई थी। इस कारण बोर का खोदा गया गढ्डा भी ग्रामींणों के बेकाम था। वहीं कुछ हैंडपंपों में हैंडल नहीं लगाया गया था। इस कारण भीषण गर्मी में ग्रामींणों पेयजल के लिए भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था। कुछ ग्रामींण कई किमी दूर से पानी ढो रहे थे। वहीं कस्बीटोला के ग्रामींणों को नदी में गढ्डा खोदकर पानी का जुगाड़ लगाना पड़ रहा था। सभी के लिए खासकर पेयजल की समस्या विकराल हो गई थी। जानकारी पत्रिका को लगने पर पत्रिका ने अपने १८ मई के अंक में नदी में गड्ढा खोदकर निकाल रहे पेयजल शीर्षक से खबर का प्रमुखता से प्रकाशन किया। इसके बाद जानकारी जिम्मेदारों ने पहुंची। पीएचई विभाग के ईई डीपी मोंगरे ने एसडीओ प्रकाश सूर्यवंशी के साथ मौके पर पहुंचकर मुआयना किया। जिनका कहना रहा कि पाइप खत्म हो जाने के कारण सुधार कार्य नहीं किया जा रहा था। उनके द्वारा डिमांड भेजने पर पाइपों की व्यवस्था की गई। इसके बाद पाइप आते ही रामपायली के सात हैंडपंपों का सुधार कार्य किया गया है। वहीं बिना हैंडल वाले हैंडपंपों मे हैंडल व बिना पाइप लाइन वाले बोर में पाइप डाले गए। इसके अलावा जंग युक्त पानी फेकने वाले हैंडपंपों का भी सुधार कार्य कर दिया गया है। अब ग्रामींणों ने राहत की सास ली है। ग्रामींणो ने पीएचई विभाग के साथ ही पत्रिका का भी आभार जताया है।

mukesh yadav Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned