मांगे नहीं मानी तो विहिप करेगा पुलिस अधीक्षक कार्यालय का घेराव

36 घंटे का अल्टीमेटम, मतांतरण, गौतस्करी, लवजेहाद जैसी घटनाओं में पुलिस कार्यप्रणाली से नाराज हिन्दुवादी संगठन

By: mukesh yadav

Published: 01 Mar 2021, 08:57 PM IST

बालाघाट. विगत कुछ दिनों से जिले में मतांतरण, गौतस्करी, नाबालिकों के अपहरण और लवजेहाद जैसी गंभीर घटनाओं ने जिले को शर्मसार कर दिया है। जिस पर पुलिस कार्रवाई तो की गई, लेकिन कहीं न कहीं पुलिस द्वारा मामले की जड़ तक नहीं पहुंचा जा रहा है। जिससे अपराध खत्म होने की बजाए बड़ते ही जा रहे हंै। अपराधियों के हौंसले बुलंद है। जो पुलिस कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े करते हैं। जिसका विहिप कड़ा विरोध दर्ज करता है। यह बात विहिप कार्यालय में आयोजित प्रेसवार्ता में विहिप जिलाध्यक्ष हीरासिंघ भाटिया ने कही।
भाटिया ने बताया कि ऐसी ही एक घटना हाल में लालबर्रा क्षेत्र से प्रकाश में आया है। जहां एक नाबालिग के अपहरण मामले को लिपा-पोती कर रहे अपराधियों को बचाने में लगे सब इंस्पेक्टर रैंक के अधिकारी एवं थाना प्रभारी को आला अधिकारी बचाने की भरसक कोशिश कर रहे हंै। जो की एक गंभीर अपराध है। जिसका विहिप विरोध करता है और चेतावनी देता है कि यदि 36 घंटे में उक्त अधिकारियों पर कार्रवाई नहीं की गई, तो विहिप पुलिस अधीक्षक कार्यालय का घेराव करेगा। लालबर्रा में नाबालिक का अपहरण मामले की उच्चस्तरीय जांच की जाए और दोषियों पर कार्रवाई की जाए। इसके साथ ही संलिप्त पुलिस अधिकारियों पर भी तत्काल कार्रवाई कर उन्हें हटाया जाए। अन्यथा इस मामले को लेकर विहिप चरणबद्ध आंदोलन के लिए बाध्य होगा। प्रेसवार्ता के दौरान विहिप कार्यकारी जिलाध्यक्ष खेमेन्द्र बाबा पारधी, मंत्री पंकज बिसेन, सहमंत्री दुर्गेश शर्मा, नगर मंत्री माही चौहान एवं वरिष्ठ चंदर दमाहे उपस्थित थे।

mukesh yadav Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned