अब यात्रियों को नहीं होगी कोई परेशानी, जल्द ही इस रूट पर चालू होगी ट्रेन

साफ हो गया है ट्रेन के चालू होने का रास्ता...

By: Ashtha Awasthi

Published: 24 Aug 2020, 09:14 AM IST

बालाघाट। बीते कई दिनों से बालाघाट-जबलपुर के बीच चल रहे नैरोगेज अमान-परिवर्तन के कार्य को अभी पूरा होने में समय बाकी है लेकिन यहां पर ट्रेन चालू होने का रास्ता साफ हो गया है। इसके निरीक्षण के लिए बीते दिन नैनपुर-लामता के बीच विद्युतीकरण का सीआरएस होने के बाद 23 अगस्त को सेफ्टी रेलवे कमिश्नर ने निरीक्षण किया।

नैनपुर से लामता के बीच तकनीकी परीक्षण किया गया, जिसमें स्पीड ट्रायल किया गया। परीक्षण को करने के लिए 35 किमी के नए ट्रैक में ढाई घंटे के निरीक्षण के बाद 40 मिनट में 90 की रफ्तार से ट्रेन दौड़ाई गई। स्पेशल ट्रेन ने 60-90 की रफ्तार से 40 मिनट में 35 किमी का सफर तय किया है।

PRIVATE TRAIN----रेलवे देश के 109 मार्गो पर 150 निजी ट्रेनें चलाएगा,  2023 में शुरू होगी

परीक्षण के दौरान कई मानकों को गौर से देखा गया। जिसके बाद इलेक्ट्रिफिकेशन का कार्य लॉकडाउन के दौरान भी समय पर पूरे होने की सीआरएस ने सराहना की और शेष कार्य को लामता-समनापुर तक भी जल्दी पूर्ण करने के लिए निर्देशित भी किया गया। इस निरीक्षण के दौरान कहा गया है कि लामता-समनापुर के बीच विद्युतीकरण का कार्य पूरा होने के बाद जबलपुर से बालाघाट का सफर पूरा हो जाएगा।

आने वाले कुछ दिनों में ही ये काम पूरा हो जाएगा। इसके पूरे होने से गोंदिया-जबलपुर तक ट्रेन का सीधा सफर शुरू हो जाएगा। इस निरीक्षण के दौरान सीआरएस एके राय, डीआरएम दपूम रेलवे शोभना बंदोपाध्याय समेत डिप्टी सीआरएस, चीफ इंजीनियर, सीईओ कंस्ट्रक्शन समेत अन्य तकनीकी अधिकारी मौजूद रहे।

दपूमरे बिलासपुर जोन डीआरएम शोभना बंदोपाध्याय का कहना है कि नैनपुर-लामता के बीच ट्रैक पूरा होने के बाद इलेक्ट्रिफिकेशन का सीआरएस किया गया है। निरीक्षण के बाद स्पीड ट्रॉयल किया है। जल्दी ही इस ट्रैक पर सवारी ट्रेन चालू हो जाएगी। लामता-से समनापुर का कार्य भी जल्दी पूरा हो जाएगा। इसी साल जबलपुर से बालाघाट तक सीधी रेल सेवा शुरू हो जाएगी।

Ashtha Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned