कबड्डी खिलाडिय़ों ने दिखाया दम

विधायक कप का आयोजन-

By: mukesh yadav

Published: 10 Feb 2018, 11:34 AM IST

बालाघाट. ग्रामीण खेल प्रतिभाओं को निखारने की मंशा से मप्र शासन की पहल पर इस वर्ष भी खेल एवं युवा कल्याण विभाग द्वारा विधानसभा क्षेत्र कटंगी-खैरलांजी अंतर्गत विधायक कप प्रतियोगिता का आयोजन हुआ। जिसके तहत शुक्रवार को सरकारी अस्पताल मैदान में एक दिवसीय कबड्डी प्रतियोगिता का वृहद आयोजन किया गया। जिसमें क्षेत्र की करीब 30 कबड्डी टीमों ने हिस्सा लेकर अपना दम दिखाया। प्रतियोगिता का उद्घाटन कलेक्टर डीव्हीं सिंह के मुख्य आतिथ्य तथा पुलिस अधीक्षक अमित सांघी की अध्यक्षता एवं विधायक केडी देशमुख की प्रमुख उपस्थिती में हुआ। प्रतियोगिता का शुभारंभ मैच शासकीय कन्या उमावि तथा शासकीय कला एवं वाणिज्य महाविद्यालय की महिला टीमों के मध्य खेला गया।
खिलाडिय़ों को संबोधित करते हुए कलेक्टर सिंह ने कहा कि विधायक कप प्रतियोगिता से ग्रामीण अंचलों की खेल प्रतिभाएं सामने आएगी। उन्होंने खिलाडिय़ों को जीत-हार के द्वंद से परे होकर खिलाड़ी भावना से खेल खेलने के लिए प्रेरित किया। विधायक केडी देशमुख ने राज्य सरकार की इस पहल की सराहना की।
यह रहे उपस्थित
कार्यक्रम में एसडीएम ऋषभ जैन, एसडीओपी नीतू सिंह, नगर परिषद् अध्यक्ष अर्चना जैन, नरेन्द्र भैरम, राजकुमार तरवरे, राजेश ठाकरे, मेष देशमुख, अमीरचंद छिपेश्वर, यशवंत टेम्भरे, थाना प्रभारी मनोज राजपूत, सीईओ व्हीपी श्रीवास्तव, सीएमओ श्रीकांत पाटर सहित तमाम स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी, कर्मचारीगण मौजूद रहे।

साहब, उष्णा प्लांट से फैल रहा वायू प्रदूषण
बालाघाट. साहब, पाथरवाड़ा रोड पर लगे उष्णा प्लांट से वायू प्रदूषण, जल प्रदूषण फैल रहा है। सांस लेने में दिक्कत हो रही है तथा पीने लायक पानी नहीं बचा है। प्लांट से निकलने वाले दूषित पानी से फसल बर्बाद हो रही है। इस प्लांट को बंद करवाकर हम वार्डवासियों के साथ न्याय करें। यह गुहार पाथरवाड़ा रोड पर निवास करने वाले वार्ड क्रमांक 3 के निवासियों ने कलेक्टर डीव्हीं सिंह से लगाई। इन पीडि़तों ने बताया कि उष्णा प्लांट का निर्माण अवैध तरीके से किया गया है। जिसकी लगातार शिकायतें की गई। लेकिन इसके बाद भी निर्माण नहीं रोका गया और आज जब प्लांट बनकर तैयार हो चुका है, तो लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।
वार्डवासी थानसिंह पटले, सुरेश बिसेन, आशाराम वर्मा, श्रीचंद बिसेन, गोपीचंद बिसेन, घनश्याम पटले, सुखराम बिसेन, लखनलाल पटले, चतरुलाल पटले, बस्तीराम बिसेन, महेन्द्र बिसेन, रविप्रकाश बिसेन, भागचंद बिसेन, मनीराम पटले, चित्र पटले, नेतनबाई बिसेन, महेन्द्र पटले सहित अन्य ने अपना दर्द बंया करते हुए कहा कि इस प्लांट ने वार्ड में रहना दुश्वार हो चुका है। प्लांट की निकलने वाली राख घरों पर जम रही है तथा वायू प्रदूषण होने से दम घुट रहा है। वहीं नवजात बच्चों को श्वास लेने में दिक्कत हो रही है। 10 जनवरी 2018 को प्रदूषण बोर्ड के अधिकारियों ने इस प्लांट का निरीक्षण किया। जिसमें वार्डवासियों के द्वारा की गई शिकायत सहीं पाई गई। लेकिन इसके बाद भी प्लांट संचालक के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई। वार्डवासियों ने तत्काल प्लांट बंद कराने की मांग की है।

mukesh yadav Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned