कटंगी का 'शाहिलÓ छोटे पर्दे पर

पिता ने जाने से रोका, बजरंगी भाईजान में काम करने का मौका गवाया

By: mukesh yadav

Published: 24 May 2018, 05:00 PM IST

कटंगी। हर व्यक्ति अपने जीवन में सफल होना चाहता है और सफलता की कोई निश्चित परिभाषा भी नहीं होती, लेकिन आम तौर पर अपने जीवन में निर्धारित किए गए लक्ष्यों की प्राप्ति ही सफलता कहलाती है। कहते हंै पंख मिलते ही प्रतिभा परवान चढ़ जाती है और इस कहावत को कटंगी शहर के शाहिल राउत ने चरितार्थ किया है। इस 19 वर्षीय युवक ने छोटे पर्दे से अपने अभिनय की शुरूआत की है। सोनी टीवी पर प्रतिदिन रात्रि साढ़े 8 बजे स्वास्तिक प्रोडक्शन हाउस के प्रसारित होने वाले टीवी सीरियल 'पोरसÓ से वह अभिनय कर रहे हैं। वह इस सीरियल में एक मेहमान कलाकार की भूमिका में पहली बार नजर आए हैं। इसके बाद वह अब लगातार कई दृश्यों में दिखाई देंगे। इस सीरियल का सैट गुजरात के उमरगांव में लगा हुआ है। शाहिल ने छोटे पर्दे पर कदम रखते ही अपना जलवा बिखेर दिया है। उनकी कला का जादू खुद निर्माता-निर्देशक के सिर चढ़कर बोल रहा है। इसी वजह से उन्हें त्रिविजन फिल्म प्राईवेट लिमिटेड में सहायक निदेशक का दायित्व भी दिया गया है। हालाकिं शाहिल की अब छोटे और बड़े पर्दे पर लीड एक्टर काम करने की इच्छा है।
छोटे पर्दे का कलाकार शाहिल अभी छुट्टी पर अपने घर आया हुआ है। उन्होंने चर्चा करते हुए बताया कि उनका सपना बड़े पर्दे पर अभिनय करने का है। वह सलमान खान के साथ भाई के किरदार में फिल्म करना चाहते हैं। वह वरूण धवन के साथ भी फिल्म करना चाहते हैं। उन्होंने बताया कि सलमान खान की फिल्म बजरंगी भाईजान में उन्हें बैकग्रांउड रोल के लिए कॉल आया था। लेकिन पिता ने पाकिस्तान से भारत के संबंधों को देखते हुए कश्मिर जाने से मना कर दिया। इस कारण उन्होंने एक मौका गवा दिया। शाहिल के पिता तिलकराज राउत शासकीय ठेकेदार तथा माँ रजनी राउत गृहणी है। यह अपने बच्चे को छोटे पर्दे पर मौका मिलने पर काफी खुश है। शाहिल आने वाले समय में विजय भारद्वाज प्रोडक्शन हाउस के गाने नमस्ते इंडिया में भी नजर आएंगे। इस गाने की शूटिंग हो चुकी है।
बचपन से ही शौक
शाहिल ने बताया कि उनके भाई विशाल भारतकर पहले ही छोटे पर्दे पर अभिनय कर रहे हैं। वह मशहुर टीवी सीरियल चन्द्रकांता में अपनी भूमिका निभाते हैं। इन्हीं की प्रेरणा से एक्ंिटग करने की चाहत हुई। उन्होंने भोपाल भारत भवन में थियेटर का कोर्स किया। इसके अलावा उन्होंने देश के जाने माने मंचों पर अपनी कला का प्रदर्शन किया। वह छोटे पर्दे पर पहले अपना मुकाम बनाना चाहते हैं, इसके बाद ही वह वॉलीवुड में अपने आप को स्थापित करने का लक्ष्य तैयार करेंगे। कटंगी शहर के वार्ड 02 में निवास करने वाले तिलकराज के पुत्र शाहिल को बचपन से ही एक्टिंग का शौक था। वह अपने स्कूल के दिनों से ही मायानगरी में मुकाम पाने का सपना संजोए रखे हैं। हालाकिं अभी वह इससे कुछ पायदान की दूरी पर हैं।

mukesh yadav Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned