लंबा सफर, इंतजार हुआ खत्म, आसानी से मिलेगा राशन

आदिवासियों की समस्याओं का प्रशासन ने किया समाधान, नक्सल प्रभावित ग्राम टेमनी में खुली राशन दुकान

By: Bhaneshwar sakure

Published: 05 Mar 2021, 09:17 PM IST

बालाघाट. अब राशन के लिए न तो लम्बी दूरी तय करना पड़ेगा और न ही परेशान होना पड़ेगा। यह राशन अब पड़ोस के गांव में ही आसानी से उपलब्ध हो रहा है। प्रशासन ने आदिवासियों की समस्याओं का समाधान करते हुए आदिवासी अंचल के ग्राम टेमनी में नई राशन दुकान खुलवा दी है। अब इस सोसायटी से आदिवासियों को आसानी से राशन मिलने लगा है और उन्हें परेशानी भी नहीं हो रही है।
जानकारी के अनुसार नक्सल प्रभावित लांजी क्षेत्र के पहाड़ों के बीच बसे ग्राम टेमनी, सायर, संदूका और केराडेही के बैगा आदिवासी प्रतिमाह राशन के लिए न केवल २०-३० किमी की दूरी पैदल तय कर देवरबेली पहुंचते थे। बल्कि उन्हें राशन लेने में एक-दो दिन का समय भी लग जाता था। इतना ही नहीं इन आदिवासियों को यदि राशन मिल भी जाए तो उन्हें घर तक ले जाने में काफी परेशानी होती थी। इसी परेशानी को देखते हुए प्रशासन ने ग्राम टेमनी में नई राशन दुकान खोल दी है। अब आदिवासियोंं को राशन लेने के लिए देवरबेली नहीं जाना होगा। बल्कि राशन दुकान चलकर ग्राम टेमनी पहुंच गई है। टेमनी के स्कूल में प्रारंभ की गई नई राशन दुकान से राशन लेकर सभी बैगा आदिवासी बहुत खुश थे। दुकान खुलने के बाद ग्राम सायर के गुलाब, सुखऊ, संदुका के रामलाल, प्रभुदयाल, अमीलाल, गुमान, टेमनी के सुखदास, दुल्लू रैनी, सोदसिंह, केराडीह के रमेश, रामकली, बिरजू, तिलक, सुकलू व खमारडीह के भगेल सिंह सहित 100 से अधिक बैगा आदिवासी टेमनी की राशन दुकान में राशन लेने के लिए पहुंचे थे
उल्लेखनीय है कि कलेक्टर दीपक आर्य के मार्गदर्शन में लांजी एसडीएम रविन्द्र परमार और एसडीओपी दुर्गेश आर्मो ने दूरस्थ क्षेत्र के इन ग्रामीणों की समस्या को समझा और उन्होंने ग्राम टेमनी, सायर, संदूका और केराडेही के बैगा आदिवासी लोगों की इस समस्या का निदान करने के लिए पहल की थी। लांजी एसडीएम रविन्द्र परमार व एसडीओपी दुर्गेश आर्मो ने प्रयास कर 4 मार्च को ग्राम टेमनी के स्कूल में राशन दुकान प्रारंभ कर ग्राम ग्रामीणों को राशन का वितरण कराया है। ग्राम टेमनी की यह दुकान निर्धारित दिनों में खुलेगी।
एसडीएम परमार ने बताया कि टेमनी में नई राशन दुकान के लिए भूमि आबंटित कर दी गई है और मनरेगा एवं अन्य योजना की राशि से उचित मूल्य दुकान के भवन का निर्माण किया जाएगा। टेमनी, सायर, संदूका व केराडेही दुर्गम क्षेत्र के ग्राम है और इन ग्रामों तक पहुंचने के लिए सड़क नहीं है। टेमनी तक कच्ची सड़क बना दी गई है, जिससे आवागमन हो रहा है और राशन का अनाज भी सुगमता से टेमनी पहुंचने लगा है। टेमनी तक पहुंचने के लिए पक्की सड़क बनाने के लिए भी प्रयास किए जा रहे है।

Bhaneshwar sakure Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned