छात्रावास में सामूहिक रूप से मनाया उत्सव दिवस

कन्या सीनियर आश्रम व बालक छात्रावास उकवा के द्वारा 23 जुलाई को प्रवेश उत्सव दिवस व शहीद चंद्रशेखर आजाद की जयंती मनाई गई।

By: mantosh singh

Updated: 24 Jul 2018, 12:26 PM IST

बालाघाट. कन्या सीनियर आश्रम व बालक छात्रावास उकवा के द्वारा सामूहिक रूप से 23 जुलाई को प्रवेश उत्सव दिवस व शहीद चंद्रशेखर आजाद की जयंती मनाई गई। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि जनपद सदस्य सुरेखा बडोले, उकवा सरपंच संजय मर्सकोले, कांगे्रस मंडल अध्यक्ष परमानंद पारधी, पंच उषा गिरे, प्राचार्य रविन्द्रनाथ नरताम, छात्रावास अधीक्षिका रेखा मेश्राम, रूकमनी रंगारे, पीएन पटले प्रमुख रूप से शामिल रहे। कार्यक्रम का शुभारंभ मॉ सरस्वती की वंदना व शहीद चंद्रशेखर आजाद के छायाचित्र पर माल्यार्पण कर किया गया।
योजनाओं के बारे में दी जानकारी
इस दौरान जनपद सदस्य बडोले ने शासन से मिलने वाली योजनाओं के बारे में विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने कहा कि शासन की ओरसे शिक्षा से संबंधित व विद्यार्थियों को छात्रावास में मिलने वाली सभी सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही है। बावजूद पालकों के द्वारा छात्रावासों में अपने बच्चों को प्रवेश दिलाने के बाद छात्रवास आना ही बंद कर देते हैं। शासन के नियमानुसार सप्ताह में एक बार बच्चों से मिलने व पालक शिक्षक संघ की बैठक में प्रति माह आना चाहिए। जिससे शासन की योजनाओं का लाभ बराबर बच्चों को दिया जा रहा है कि इस बारे में जानकारी मिलती है। उन्होंने शहीद चन्द्रशेखर के जीवन चरित्र पर प्रकाश डालते हुए कहा कि देश को आजादी दिलाने कई महापुरूषों ने अपने प्राणों की आहूति दे दी। हमें इनके बताए मार्गो पर चलने का प्रयास करना होगा।
कार्यक्रम के महत्व पर डाला प्रकाश
इस दौरान प्राचार्य नरताम ने प्रवेश उत्सव कार्यक्रम के बारे में प्रकाश डालते हुए कहा कि हर वर्ष छात्रवासों मे नए छात्र-छात्राएं प्रवेश करते है। जिससे शासन ने यह आदेश दिया है कि प्रवेश करने वाले विद्यार्थियों का मनोबल बढ़ाने के लिए एक कार्यक्रम आयोजित कर उनके पालकों व अतिथियों को बुलाकर स्वागत समारोह किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि छात्रावास में रहने वाले विद्यार्थी अपने परिवार को छोड़ आते है। उन्होंने कहा कि सभी छात्र बेहतर पढ़ाई कर उत्कृष्ट स्थान प्राप्त कर अपने अभिभावक व स्कूल का नाम रोशन करें। कार्यक्रम का संचालन डीके रामटेके के द्वारा किया गया।

mantosh singh Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned