बस्तर जिले के पहुंचे नक्सलियों ने भी बालाघाट में डाला है डेरा

बस्तर जिले के पहुंचे नक्सलियों ने भी बालाघाट में डाला है डेरा

Bhaneshwar Sakure | Publish: Jul, 13 2018 08:49:08 PM (IST) Balaghat, Madhya Pradesh, India

हार्डकोर नक्सली ने पूछताछ में उगले राज

बालाघाट. छत्तीसगढ़ राज्य के बस्तर जिले के आधा दर्जन से अधिक नक्सलियों ने भी बालाघाट जिले में डेरा डाले हुए थे। ये नए नक्सली और पूर्व से जिले में मौजूद नक्सली किसी बड़ी घटना को अंजाम देते इसके पूर्व ही उनके मंसूबों को पुलिस ने नाकाम कर दिया। बालाघाट जिले में नए नक्सलियों के डेरा डालने का खुलासा पुलिस रिमांड पर चल रहे हार्डकोर नक्सली मुन्नालाल वरकड़े और संगम सदस्य इंदल पंद्रे ने पूछताछ में किया है। इस हार्डकोर नक्सली द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार पुलिस उसकी तस्दीक में लगी है। बताया गया है कि जिले में जो नए सदस्य शामिल है वे विस्तार दलम के सदस्य है। नक्सली मुन्नालाल वरकड़े द्वारा पुलिस को दी गई जानकारी से यह स्पष्ट हो गया है कि बालाघाट जिले में छग राज्य के नक्सली बड़ी संख्या में मौजूद है। मौजूदा समय में बारिश का होने के कारण नक्सली जंगलों में शिविर लगाकर आगामी योजना तैयार कर रहे हैं। साथ ही नए सदस्यों को भी तैयार कर रहे हैं।
जानकारी के अनुसार जिले के लांजी थाना अंतर्गत छग राज्य की सीमा से लगे जंगल में नक्सलियों द्वारा कैम्प किया जा रहा था। जिसकी सूचना मिलने पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर नक्सलियों की घेराबंदी की। इस दौरान पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ भी हुई। कैम्प में करीबन दो दर्जन नक्सली मौजूद थे। मुठभेड़ के दौरान इनामी नक्सली मुन्नालाल वरकड़े और संगम सदस्य इंदल पंद्रे को पुलिस ने गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की। जबकि शेष नक्सली मौका पाकर फरार हो गए। गिरफ्तार किए गए नक्सली और उसके सहयोगी सहित करीब २० नक्सलियों के खिलाफ लांजी थाने में धारा ३०७, ३५३, १४७, १४८, १४९ ताहि, २५, २७ आम्र्स एक्ट और १३ विधि विरुद्व क्रिया कलाप अधिनियम के तहत अपराध दर्ज किया गया है। इन दोनों को ही पुलिस ने १० जुलाई को न्यायालय में पेश कर पांच दिन की रिमांड पर लिया है।
अलग-अलग जिलों की पुलिस कर रही पूछताछ
दो राज्यों के इनामी नक्सली मुन्नालाल और संगम सदस्य इंदल से अलग-अलग जिलों की पुलिस पूछताछ कर रही है। जिसमें बालाघाट पुलिस के अलावा छत्तीसगढ़ राज्य की नक्सली ऑपरेशन से जुड़ी पुलिस, गोंदिया पुलिस और आईबी की टीम शामिल है। पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इन जांच टीमों द्वारा गिरफ्तार हार्डकोर नक्सली से उनके द्वारा किए गए अपराध, बड़े अपराधों में शामिल कौन-कौन से नक्सली है, वर्षा ऋतु के बाद नक्सलियों की क्या योजना है सहित अन्य मामलों में पूछताछ कर रही है। हालांकि, पुलिस अधिकारियों का कहना है कि गिरफ्तार नक्सली मुन्नालाल ज्यादा बातें नहीं करता है। वह सीमित ही जानकारी दे पा रहा है। जिसके चलते पुलिस को भी परेशान होना पड़ रहा है।
नहीं मिल पाए डंप
पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार हार्डकोर नक्सली ने जंगलों में अलग-अलग स्थानों पर विस्फोटक डंप किए जाने की जानकारी दी थी। मुन्नालाल के बताए अनुसार पुलिस ने ऐसे स्थानों की खोजबीन भी की, लेकिन पुलिस को कुछ भी हाथ नहीं लग पाया है। एसपी जयदेवन ए ने बताया कि चार-पांच स्थानों पर डंप छिपाए जाने की जानकारी मुन्नालाल ने दी थी। लेकिन उक्त स्थान पर कोई भी डंप नहीं मिला है। हालांकि, पुलिस हार्डकोर नक्सली से और पूछताछ कर रही है।
इनका कहना है
हार्डकोर नक्सली ने ६-७ नए सदस्यों के बारे में जानकारी दी है, ये वो सदस्य हैं, जिनकी पहले कभी पहचान नहीं हो पाई थी। सभी नए सदस्य बस्तर जिले के निवासी है। मुन्नालाल से बालाघाट के अलावा गोंदिया पुलिस, आईबी भी पूछताछ कर रही है।
-जयदेवन ए, एसपी बालाघाट

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned