बगैर काटे ही प्याज ने निकाले आंसू

Bhaneshwar Sakure

Updated: 07 Dec 2019, 07:12:52 PM (IST)

Balaghat, Balaghat, Madhya Pradesh, India

बालाघाट. बगैर काटे, तड़के के ही प्याज ने गृहणियों के आंसू निकाल दिए है। यह समस्या अभी एक या दो दिन की नहीं है बल्कि पिछले एक माह से अनवरत बनी हुई है। वहीं कम से कम आगामी एक माह तक यह समस्या और बनी रहेगी। जब तक नई प्याज की आवक नहीं हो जाती तब तक प्याज इसी तरह आंसू निकालते रहेगा। प्याज के साथ-साथ हरी सब्जियों के भी दाम अधिक है। जिसमें करेला ८० रुपए प्रति किलो, बैगन ४०-५० रुपए प्रतिकिलो, लहसुन दो सौ रुपए प्रतिकिलो, अदरक १००-१२० रुपए प्रति किलो, फूलगोभी ४० रुपए, शिमला मिर्च ५०-६० रुपए प्रतिकिलो की दर से बिक रही है। इस तरह से शीत ऋतु में भी हरी सब्जियों के दाम आसमान छू रहे हैं।
जानकारी के अनुसार शुक्रवार को बालाघाट मंडी में प्याज थोक में ही ९० से ९५ रुपए प्रतिकिलो की दर से बिका है। जबकि चिल्लर में इसी प्याज को १०० से १२० रुपए प्रति किलो की दर से बेचा जा रहा है। वैसे भी शीत ऋतु में लोगों द्वारा प्याज का ज्यादा उपयोग किया जाता था, लेकिन आसमान छू रहे प्याज के दाम ने लोगों के जायका के स्वाद को फीका कर दिया है। इधर, प्याज के बढ़ते दामों को लेकर सोशल मीडिया पर तरह-तरह के कमेंट भी आना शुरू हो गए है।
थोक सब्जी विक्रेता राकेश सेवईवार ने बताया कि जिले में मौजूदा समय में रोजाना ५ टन (पांच हजार किलो) प्याज की खपत हो रही है। लेकिन अन्य राज्यों से प्याज की आवक जिले में करीब १ टन हो रही है। ऐसे में मांग के अनुरुप प्याज की आपूर्ति नहीं हो पा रही है। हालांकि, प्याज के दाम वैसे भी अधिक है। बावजूद इसके प्याज की आपूर्ति नहीं हो पा रही है। शुक्रवार को थोक में ९०-९५ रुपए प्रति किलो की दर से बिका है। जबकि चिल्लर में यह १००-१२० रुपए प्रति किलो बाजार में बेची जा रही है। उन्होंने बताया कि बालाघाट जिले में प्याज की आवक महाराष्ट्र राज्य के सोल्हापुर और कुछ मात्रा में राजस्थान से होती है। लेकिन मौजूदा समय में ही महाराष्ट्र राज्य में प्याज की कमी की चलते जिले में उसकी आपूर्ति नहीं हो पा रही है। जिसके कारण प्याज के दामों में तेजी आई है। प्याज के दामों में तेजी आगामी एक माह तक अनवरत रुप से जारी रहेगी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned