कोविड वैक्सीन टीकाकरण के लिए लोगों ने दिखाया उत्साह

पहले दिन 2323 लोगों को लगाया गया टीका, नगरीय क्षेत्र में चलाया गया विशेष अभियान, विधायक बिसेन ने किया टीकाकरण केन्द्रों का भ्रमण

By: Bhaneshwar sakure

Published: 07 Apr 2021, 09:33 PM IST

बालाघाट. नगरीय क्षेत्र बालाघाट में कोविड टीकाकरण के लिए बुधवार को विशेष अभियान चलाया गया। इन केन्द्रों में आज बड़ी संख्या में लोगों ने पहुंचकर टीका लगवाया। इस दौरान बकायदा कोविड गाइड लाइन का पालन भी किया गया। कोविड वेक्सीन टीकाकरण के लिए 11 केन्द्र बनाए गए है। इन केन्द्रों पर 45 वर्ष से अधिक की आयु के लोगों को कोविड वेक्सीन का टीका लगाया जा रहा है। विधायक गौरीशंकर बिसेन, जिपं प्रधान रेखा बिसेन ने सभी 11 केन्द्रों का भ्रमण कर टीकाकरण का जायजा लिया और वहां की व्यवस्थाओं को देखा। इस दौरान उन्होंने कोरोना संक्रमण से बचने के लिए सभी लोगों को मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की सलाह दी।
कोविड वैक्सीन का टीका लगाने के लिए जिला चिकित्सालय में दो केन्द्र, आरोग्यम केन्द्र सरेखा में एक केन्द्र बनाया गया है। इसके अलावा नूतन कला निकेतन, पॉलिटेक्निक कॉलेज के छात्रावास, अंजुमन शादी हॉल, सिंधु भवन, जैन हॉस्पिटल, सेठिया शाला, संत निरंकारी भवन व हाई स्कूल भटेरा चौकी में टीकाकरण केन्द्र बनाया गया है। 45 वर्ष से अधिक की आयु के लोगों ने भी आज कोविड वेक्सीन का टीका लगाने में उत्साह दिखाया और सर्तकता व सावधानी बरतते हुए अपने पास के केन्द्र पर टीका लगाने पहुंचे थे। सभी टीकाकरण केन्द्रों पर पेयजल की भी व्यवस्था की गई थी। 7 अप्रैल को इन 11 केन्द्रों पर शाम 5.30 बजे तक 2323 लोगों को कोविड वेक्सीन का टीका लगाया जा चुका है। इन केन्द्रों में पंद्रह हजार लोगों को टीका लगाए जाने का लक्ष्य रखा गया है।
मोतीगार्डन में आमजनों के भ्रमण पर प्रतिबंध
जिले में कोविड-19 के मरीजों की बढ़ती संख्या को दृष्टिगत रखते हुए जिला प्रशासन द्वारा कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए निरंतर कदम उठाए जा रहे है। सार्वजनिक स्थलों पर आम जनों की भीड़ को नियंत्रित नहीं किए जाने पर कोविड-19 से अधिक लोगों के संक्रमित होने की संभावना है। इन्ही तथ्यों को दृष्टिगत रखते हुए कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी दीपक आर्य ने बालाघाट नगर मुख्यालय में स्थित मोतीगार्डन को 7 अप्रैल से 14 अप्रैल तक आम जनों के भ्रमण के लिए पूर्णत: प्रतिबंधित कर दिया है।
बैलजोड़ी पट प्रतियोगिता पर भी लगा प्रतिबंध
इसके साथ ही जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में आयोजित होने वाली बैलजोड़ी की पट प्रतियोगिताओं को भी 7 से 14 अप्रैल तक के लिए पूर्णत: प्रतिबंधित कर दिया है और सम्पूर्ण जिले में आयोजित होने वाले सार्वजनिक कार्यक्रमों जिनमें 20 से अधिक लोगों की भीड़ एकत्रित होने की संभावना होए ऐसे कार्यक्रमों को भी 7 से 14 अप्रैल तक के लिए पूर्णत: प्रतिबंधित कर दिया है। जिले की जनता से इस आदेश का कड़ाई से पालन करने की अपेक्षा की गई है। सभी एसडीएम, तहसीलदार, थाना प्रभारी और नगरीय निकायों के मुख्य नगर पालिका अधिकारियों को इस आदेश का कड़ाई से पालन कराने के निर्देश दिए गए है।
स्वयं, परिवार की सुरक्षा के लिए मास्क अवश्य लगाएं-कलेक्टर
कलेक्टर दीपक आर्य ने जिले के सभी नागरिकों से अपील की है कि जिले में कोरोना के मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए घरों से कम से कम बाहर निकलें। अति आवश्यक कार्य होने पर ही घरों से निकलें। 60 साल से अधिक उम्र के बुजुर्ग, गर्भवती महिलाओं और बच्चों को बिना कारण घरों से बाहर न जाने दें। कलेक्टर आर्य ने कहा है कि सभी लोग अपनी जिम्मेदारी समझें और अपनी स्वयं की एवं परिवार के लोगों की सुरक्षा के लिए परिवार के लोगों को बिना मास्क के बाहर नहीं जाने दे। सभी लोग घर से निकलने पर अनिवार्य रूप से मास्क लगाएं, बार-बार हाथों को साबुन या सेनेटाइजर से धुलें। आवश्यक होने पर ही घरों से निकलें और भीड़भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचें। लोगों से मिलते समय कम से कम 2 गज से अधिक की दूरी अनिवार्य रूप से बनाएं रखे। बिना मास्क वालों से बात न करें और स्वयं किसी से बात कर रहे हैं तो स्वयं भी मास्क लगाएं और सामने वाले को भी अनिवार्यत: मास्क लगवाएं। कोरोना संक्रमण से बचाव का एकमात्र उपाय सावधानी है। सावधानी को अपनाकर कोरोना संक्रमण की रफ्तार को कम कर सकता हैं। कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए केवल सरकारी प्रयास ही पर्याप्त नहीं है, बल्कि इसमें आमजन का सहयोग बहुत जरूरी है।

Bhaneshwar sakure Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned