लॉकडाउन पालन कराने पुलिस ने शुरू की सख्ती

बेवजह घुम रहे लोगों से लगाई उठक-बैठक, लालबर्रा तहसील को दस तक पूर्ण बंद करने का लिया गया निर्णय

By: Bhaneshwar sakure

Published: 06 May 2021, 09:34 PM IST

बालाघाट. कोरोना संक्रमण की चैन तोडऩे के लिए प्रशासन ने अब सख्ती बरतना प्रारंभ कर दिया है। शाम पांच बजे के बाद जो लोग बेवजह घुम रहे हैं, उन्हें उठक-बैठक भी लगवा रहे हैं। वहीं लाठी भी बरसाना शुरू कर दिया है। बावजूद इसके लोग अपने घरों से बाहर निकलने से बाज नहीं आ रहे हैं। इधर, लालबर्रा क्षेत्र के रेड जोन में आने के बाद जनप्रतिनिधियों, प्रशासनिक अधिकारियों और ग्रामीणों ने एक बैठक कर आगामी १० मई तक पूर्ण रुप से लॉकडाउन रखने का निर्णय लिया है। जिसके लिए लालबर्रा सहित समीपस्थ अन्य पंचायतों के प्रधानों ने भी अपनी स्वीकृति प्रदान कर दी है। वहीं इस निर्णय का पालन कराने के लिए गांव में भी सख्ती बरती जा रही है। ताकि किसी भी स्थिति में कोरोना संक्रमण और अधिक न फैल सकें।
जानकारी के अनुसार गुरुवार की शाम को जिला मुख्यालय सहित लालबर्रा, कटंगी, वारासिवनी व अन्य क्षेत्रों में प्रशासन ने सख्ती बरतना शुरू कर दिया है। जो लोग अपने घरों से बाहर निकल रहे हैं, पहलेे उनसे बाहर निकलने का कारण पूछ रहे हैं। वहीं कारण जायज नहीं लगने पर उन्हें सजा भी दी जा रही है। उल्लेखनीय है कि जिले में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की निरंतर बढ़ती जा रही संख्या को दृष्टिगत रखते हुए कलेक्टर व जिला दंडाधिकारी दीपक आर्य ने जिले में दण्ड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 के तहत प्रतिबंधात्मक आदेश में जिन प्रतिबंधों में शिथिलता प्रदाय की थी, वह शिथिलता अब शाम 5 बजे तक ही लागू रखने के आदेश दिए है। जिसके तहत अब शाम पांच बजे के बाद से लोगों को घरों से बाहर निकलने की पाबंदी हैं। लेकिन लोग कलेक्टर के आदेश को ताक पर रखकर सड़कों पर निकल रहे हैं। इस संबंध में नए जारी आदेश के अनुसार आपातकालीन सेवाओं में कार्यरत कर्मियों को इस आदेश में छूट दी गई है। हॉस्पिटल व नर्सिंग होम में उपचार के लिए ले जाए जा रहे गंभीर रूप से बीमार व्यक्ति मरीज के साथ सहयोगी के रूप में केवल 1 व्यक्ति को छूट रहेगी। सहयोगी मरीज के लिए भोजन आदि की आपूर्ति शाम 5 बजे के पूर्व करने की अनुमति रहेगी। ऑनलाइन शॉपिंग, खाद्य पदार्थ पोर्टल द्वारा क्रय की गई सामग्री की डिलेवरी के लिए नियुक्त डिलेवरी ब्वाय शाम 5 बजे के उपरांत सामग्री की होमडिलेवरी नहीं करेगें। यह आदेश तत्काल प्रभावी हो गया है और इसका उल्लंघन करने पर दोषी व्यक्ति को सजा से दंडित किया जाएगा।

Bhaneshwar sakure
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned