scriptPre Monsoon- पहली बारिश ने खोली नपा की पोल, चौराहों में जमा हुआ पानी, नालियों का गंदा पानी बहा सडक़ों पर | Pre-monsoon has arrived- the first rain has exposed the misdeeds of the municipality, water has accumulated at the intersections, dirty water from the drains has flowed on the roads | Patrika News
बालाघाट

Pre Monsoon- पहली बारिश ने खोली नपा की पोल, चौराहों में जमा हुआ पानी, नालियों का गंदा पानी बहा सडक़ों पर

जिले में प्री-मानसून ने दस्तक दे दी है। पहली ही बारिश ने नगर के जल निकासी की पोल खोल दी। नगर के हनुमान चौक, आंबेडकर चौक में पानी जमा हो गया। लोगों को आवागमन में परेशानी हुई। गुरुवार को दोपहर बाद आसमान में बदली छाई। इसके बाद करीब 1 घंटे तक तेज बारिश हुई। बालाघाट. […]

बालाघाटJun 20, 2024 / 09:53 pm

Bhaneshwar sakure

प्री-मानसून ने दी दस्तक

सडक़ पर बह रहा नालियों का गंदा पानी।

जिले में प्री-मानसून ने दस्तक दे दी है। पहली ही बारिश ने नगर के जल निकासी की पोल खोल दी। नगर के हनुमान चौक, आंबेडकर चौक में पानी जमा हो गया। लोगों को आवागमन में परेशानी हुई। गुरुवार को दोपहर बाद आसमान में बदली छाई। इसके बाद करीब 1 घंटे तक तेज बारिश हुई।
बालाघाट. जिले में प्री-मानसून ने दस्तक दे दी है। पहली ही बारिश ने नगर के जल निकासी की पोल खोल दी। नगर के हनुमान चौक, आंबेडकर चौक में पानी जमा हो गया। लोगों को आवागमन में परेशानी हुई। गुरुवार को दोपहर बाद आसमान में बदली छाई। इसके बाद करीब 1 घंटे तक तेज बारिश हुई। इधर, बारिश होने से तापमान में गिरावट दर्ज की गई। लोगों को गर्मी से राहत मिली।
गोंदिया रोड, हनुमान चौक में हुआ जल जमाव
गुरुवार को हुई बारिश से नगर मुख्यालय में जगह-जगह जल भराव की स्थिति उत्पन्न हो गई। खासतौर पर हनुमान चौक, आंबेडकर चौक में पानी की निकासी नहीं होने के कारण जल जमाव की स्थिति उत्पन्न हो गई। यहां दुकानों के सामने भी पानी जमा होने से व्यापारियों को भी काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। इधर, हनुमान चौक और गोंदिया रोड में पानी के बीच से लोगों को आवागमन करना पड़ा। इसके अलावा नगर के वार्ड नंबर 1, 2, 3, 4, 10, 13, 16, 24 और 32 सहित अन्य स्थानों में भी जल जमाव की स्थिति देखी गई। जलजमाव से लोगों को काफी परेशान होना पड़ा है।
उल्लेखनीय है कि हनुमान चौक में प्रतिवर्ष वर्षा ऋतु के दौरान जल जमाव की स्थिति उत्पन्न होती है। बावजूद इसके अभी तक नगर पालिका ने इसका स्थायी समाधान नहीं किया है। पूर्व में यहां के व्यापारियों ने इसका विरोध भी जताया था। बड़ा नाला का निर्माण कर जल निकासी की व्यवस्था किए जाने की मांग की थी। लेकिन नगर पालिका ने इसे भी गंभीरता से नहीं लिया। जिसके कारण समस्या जस की तस बनी हुई है।
बीज बोनी में जुटे किसान
जिले में प्री-मानसून की दस्तक के साथ ही किसानों ने कृषि कार्य प्रारंभ कर दिया है। बीज बोनी से लेकर खेत को संवारने का कार्य कर रहे हैं।
तामापन में हुई गिरावट
गुरुवार को सुबह से आसमान में बदली छाई रही। दोपहर बाद बारिश होने के कारण तापमान में गिरावट हुई है। पारा करीब 4-5 डिग्री सेल्सियस गिर गया है। मौसम में भी नमी की मात्रा बढ़ गई है। जिसके कारण लोगों को गर्मी से राहत मिली है।
तिरोड़ी तहसील में हुई सबसे अधिक बारिश
1 जून से प्रारंभ हुए वर्षा सत्र में 20 जून तक जिले में 81.4 मिमी औसत वर्षा रिकार्ड की गई है। जबकि गत वर्ष इसी अवधि में 2.2 मिमी वर्षा रिकार्ड की गई थी। 20 जून को पिछले 24 घंटों के दौरान 12.9 मिमी औसत वर्षा रिकार्ड की गई है। जिले की औसत सामान्य वर्षा 1447 मिमी है। माह जून में सामान्य रुप से 211.7 मिमी वर्षा होती है। जबकि 1 से 20 जून तक 142 मिमी वर्षा हुई है। अधीक्षक भू-अभिलेख कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार 20 जून को सुबह 8 बजे तक पिछले 24 घंटों में बालाघाट तहसील में 1.8 मिमी, वारासिवनी तहसील में 16.1 मिमी, बैहर तहसील में 15 मिमी, लांजी में 5.2 मिमी, कटंगी में 3.3 मिमी, किरनापुर में 6.4 मिमी, खैरलांजी में 3.4 मिमी, लालबर्रा में 9 मिमी, बिरसा में 3.6 मिमी, परसवाड़ा में 0 मिमी और तिरोड़ी तहसील में 78.3 मिमी वर्षा रिकार्ड की गई है। इस प्रकार बीते 24 घंटों में बालाघाट जिले में 12.9 मिमी औसत वर्षा रिकार्ड की गई है।

Hindi News/ Balaghat / Pre Monsoon- पहली बारिश ने खोली नपा की पोल, चौराहों में जमा हुआ पानी, नालियों का गंदा पानी बहा सडक़ों पर

ट्रेंडिंग वीडियो