प्रदर्शनकारियों ने निकाली रैली, नुक्कड़ को किया संबोधित

Bhaneshwar Sakure

Updated: 06 Sep 2018, 04:26:50 PM (IST)

Balaghat, Madhya Pradesh, India

बालाघाट. गुरुवार को बंद को लेकर दोपहर करीब १ बजे सभी समाजों के लोगों ने रैली निकाली। नगर भ्रमण के बाद यह रैली नगर के हनुमान चौकी पहुंची। जहां एक नुक्कड़ सभा को सभी समाज के प्रमुख्याों ने संबोधित किया। इसके बाद एससी/एसटी अध्यादेश के विरोध में एसडीएम को ज्ञापन भी सौंपा। इधर, बंद को लेकर गुरुवार को जगह-जगह पुलिस बल तैनात रहा। गुरुवार को पूरा बालाघाट शहर छावनी में तब्दील हो गया था। जिला पुलिस बल के अलावा हॉकफोर्स के जवानों को भी सुरक्षा के लिए तैनात किया गया था। बालाघाट कोतवाली के अलावा ग्रामीण थाना, भरवेली थाना और पुलिस लाइन का बल भी तैनात किया गया था। एसपी जयदेवन ए, एएसपी आकाश भूरिया, सीएसपी मोनिका तिवारी सहित अन्य पुलिस अधिकारियों ने सुरक्षा की कमान संभाली हुई थी। जिसके चलते किसी भी तरह की कोई भी हिंसक घटनाएं नहीं हो पाई।
मुख्यालय सहित पूरे जिले में बंद का असर देखा गया। सर्व समाज के लोगों ने सड़क पर उतरकर सर्वोच्च न्यायालय का अपमान नहीं सहेगा हिन्दुस्तान के नारे लगाकर प्रदेश व केन्द्र सरकार का विरोध जताया। सर्वोच्च न्यायालय द्वारा एससी/एसटी एक्ट में न्यायहित में निर्णय दिया था। लेकिन भातर सरकार द्वारा तानाशाही कर सत्ता के लालचवश एससी/एसटी एक्ट में विधि विरूद्ध अध्यादेश लाकर ७८ प्रतिशत जनता के साथ अन्याय किया गया है। जिसका खामियाजा सरकार को आगामी चुनाव में भुगतना पड़ेगा। बंद के दौरान रजेगांव किरनापुर में महिलाओं ने भी सड़क पर उतरकर विरोध जताया। नगर में सभी दुकानें व पेट्रोल पम्प एवं बसें बंद रही। आंदोलनकारियों द्वारा अपनी मांगों को लेकर एसडीएम को ज्ञापन सौंप इस अध्यादेश को वापस लेने की मांग की है।
धारा १४४ लागू
भारत बंद के दौरान कलेक्टर द्वारा भी शांति व्यवस्था कायम रखने धारा १४४ लागू कर दी थी। बंद पूरी तरह शांतिपूर्ण रहा। व्यापारियों व बस संचालकों द्वारा स्वेच्छा से ही बंद को समर्थन दिया गया। इस दौरान नगर की गलियों में सन्नाटा पसरा रहा। बंद के दौरान शहर में किसी तरह की अप्रिय घटना न हो जिसके चलते नगर के प्रमुख चौक-चौराहों पर पुलिस तैनात रही। पुलिस के आला अधिकारी लगातार शहर में गश्त करते रहे।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned