हक व अधिकार पाने राज मिस्त्रीयों ने शुरू की हड़ताल

राज मिस्त्री मजदूर संघ वारासिवनी द्वारा ३ दिवसीय काम बंद हड़ताल स्थानीय रानी अवंतीबाई स्टेडियम में प्रारंभ कर दी गई है।

By: mukesh yadav

Published: 09 Dec 2017, 09:02 PM IST

बालाघाट/वारासिवनी। राज मिस्त्री मजदूर संघ वारासिवनी द्वारा ३ दिवसीय काम बंद हड़ताल स्थानीय रानी अवंतीबाई स्टेडियम में प्रारंभ कर दी गई है। यह हड़ताल राज मिस्त्री मजदूर संघ द्वारा अपने अधिकार व हक की लड़ाई के साथ ही मकान मालिकों को बेहतर निर्माण व उनके हितों की रक्षा करने के लिए की जा रही है। हड़ताल के प्रथम दिवस वारासिवनी तहसील अंर्तगत आने वाले समस्त भवन निर्माण ठेकेदार व राज मिस्त्रीयों ने इस हड़ताल में शामिल होकर संघ द्वारा अपने व मकान मालिक के हितों की रक्षा हेतु बनाए गए नियम कायदे पर संतोष व्यक्त किया। साथ ही इस पंजीकृत संस्था से ठेकेदारी कर रहे अन्य लोगों को जुडऩे के लिए प्रेरित किया। ताकि उनके हितों की लड़ाई एक साथ लड़ी जा सकें।
गौरतलब है कि विगत कई दिनों से राज मिस्त्री मजदूर संघ को मकान मालिकों की ओर से लिखित एवं मौखिक रूप से शिकायत मिल रही थी कि शहर में कार्य कर रहे कुछ राज मिस्त्रीयों के द्वारा सही तरीके से कार्य नहीं किया जा रहा है। राज मिस्त्रीयों द्वारा निर्माण संबंधित कार्य विवरण की विस्तृत जानकारी न देकर कई आयटमों का चार्ज अलग से जोडऩा, कार्य के प्रोगे्रस से ज्यादा पेमेन्ट लेना एवं मकान मालिक द्वारा कार्य का नाप कर हिसाब बनाने पर काम छोड़कर चले जाना या फिर मजदूरों का पेमेंट नहीं मिला है यह कहकर उन्हें पेमेन्ट से वंचित रखना जैसे अनिमित्ताएं बरती जा रही थी।
इसके अलावा शहर में भवन निर्माण कार्य कर रहे राजमिस्त्री साथियों द्वारा भी संघ से यह शिकायत की जा रही थी की मकान मालिकों के द्वारा बिना ड्राईंग डिजायन बताए बगैर रेट तय करवा लिया जाता है एवं तय शुदा रेट में ही सभी प्रकार का कार्य करवाया जाता है। कई बार साप्ताहिक पेमेंट कम देते हैं और कार्य पूर्ण होने पर अंतिम पेमेंट के लिए कई बार चक्कर लगवाए जाते हंै। इस तरह से मिल रही शिकायतों को ध्यान में रखते हुए संघ से समस्त राज मिस्त्रीयों को जोड़कर मकान मालिक व उनके हितों में किसी प्रकार की तकरार न हो इस बात की रूपरेखा संयुक्त रूप से बैठकर बनाई जा रही है। जिसके चलते ही राज मिस्त्री मजदूर संघ ने ३ दिवसीय काम बंद हड़ताल की है।

mukesh yadav Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned