एससी/एसटी पर हो रहे अत्याचार के खिलाफ रैली निकाल किया प्रदर्शन

एससी/एसटी पर हो रहे अत्याचार के खिलाफ रैली निकाल किया प्रदर्शन

Mahesh Kumar Doune | Updated: 04 Jun 2019, 03:08:39 PM (IST) Balaghat, Balaghat, Madhya Pradesh, India

अनुसूचित जाति, जनजाति वर्ग के साथ हो रहे अत्याचार के खिलाफ अनुसूचित जाति, जनजाति मोर्चा ने किया रैली निकाल प्रदर्शन कर ज्ञापन सौंपा।

बालाघाट. अनुसूचित जाति, जनजाति वर्ग के साथ हो रहे अत्याचार के खिलाफ अनुसूचित जाति, जनजाति मोर्चा ने किया रैली निकाल प्रदर्शन कर ज्ञापन सौंपा। मोर्चा के पदाधिकारियों ने एससी/एसटी वर्ग की महिलाओं के साथ जातीय उत्पीडऩ व गंभीर अपराधिक घटनाओं की निष्पक्ष जांच कर शीघ्र कार्रवाई करने एवं जूनियर डॉक्टर को आत्महत्या के लिए प्रेरित करने वाले डॉक्टरों के खिलाफ एट्रोसिटी एक्ट के तहत कार्रवाई करने की मांग की है।
इस दौरान सूयप्रकाश बोरकर ने बताया कि मुंबई के नॉयर अस्पताल में पदस्थ जूनियर डॉक्टर पायल तड़वी को उच्च जाति की तीन महिला डॉक्टर के उत्पीडऩ के चलते आत्महत्या जैसा कदम उठाना पड़ा हैं। जिन्हें पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। लेकिन तीनों महिला डॉक्टर के खिलाफ उचित कार्रवाई कर कड़ी सजा दी जाए। उन्होंने बताया कि डॉक्टर पायल के जैसे ही एससी/एसटी समुदाय के लोगों द्वारा प्रताडि़त करने के मामले अधिक सामने आ रहे है। जो अधिकतर शासकीय कार्यालयों में हो रहा हैं। उन्होंने बताया कि राजस्थान, उत्तरप्रदेश और झारखंड जैसे राज्यों में लगातार एससी/एसटी के साथ जातीय उत्पीडऩ की घटनाएं सामने आ रही हैं। भारतीय संविधान के अनुच्छेद 17 के द्वारा संपूर्ण भारत में अस्पृश्यता व जातीय भेदभाव समाप्त कर दिया गया है। लेकिन शासन-प्रशासन की गलत नीति के चलते वर्तमान समय में भी अनुसूचित जाति, जनजाति पर अत्याचार व उत्पीडऩ का सिलसिला जारी हैं। उन्होंने शासन-प्रशासन से मांग की है कि इस तरह के मामले पर शीघ्र अंकुश नहीं लगा तो एससी/एसटी वर्ग सड़क पर उतरेगा आंदोलन करेगा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned