मूसलाधार बारशि से बेघर हुए ग्रामीण

मूसलाधार बारशि से बेघर हुए ग्रामीण

Bhaneshwar sakure | Publish: Sep, 04 2018 09:37:38 PM (IST) Balaghat, Madhya Pradesh, India

दो मकान हुए धराशायी, परेशान हो रहे ग्रामीण, पीडि़तों ने की प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ दिए जाने की मांग

बालाघाट/किरनापुर. क्षेत्र के ग्राम लवेरी में बीती रात्रि अचानक हुई मूसलाधार बारीश से दो मकान रात्रि में ही धराशायी हो गए। हालांकि, इस दौरान किसी भी प्रकार की कोई बड़ी घटना नहीं हुई। इधर, मकान के धराशायी होने से अब पीडि़त परिवार बेघर हो गए। जानकारी के अनुसार वार्ड क्रमांक ४ निवासी मंगरया पिता धन्नुलाल बिरागर और वार्ड क्रमांक १५ निवासी जीराबाई पति विष्णुनाथ का मकान तेज बारिश के कारण गिर गया।
पीडि़त मंगरया पिता धन्नुलाल बिरागर वार्ड नं. 4 निवासी ने बताया कि जिस कमरे में मेरी मां सोती थी, वह कमरा ही गिर गया। हालांकि, इस घटना में माताजी को कोई चोट नहीं आई। उन्होंने बताया कि अचानक अद्र्धरात्रि को तेज बारीश होने से मकान गिरा। इसी तरह लवेरी के वार्ड नं. 15 की निवासी जीराबाई पति विष्णुनाथ ने भी बताया कि अद्र्धरात्रि को तेज बारीश होने से मेरा मकान भी गिर गया। जिसकी सूचना ग्राम के सरपंच को दी गई। जानकारी मिलते ही पास पड़ोस के लोगों ने तत्परता दिखाते हुए तुरंत पीडि़त के घर पहुुंचकर उसकी सहायता की। भरी बरसात मे गरीबों पर दुबले पर दो आषाढ़ वाली कहावत चरितार्थ हो रही है। ग्राम लवेरी के दोनो पीडि़तों ने सरकार से तत्काल उन्हें पीएम आवास योजना के अंतर्गत पक्का मकान निर्माण काए करवाए जाने के प्रकरण स्वीकृत किए जाने की मांग की है।
इधर, तहसील मुख्यालय ग्राम पंचायत किरनापुर के वार्ड़ क्रमांक 14 आम्बेड़कर नगर मेें ग्राम पंचायत प्रबंधन की लापरवाही के चलते पानी निकासी के कोई प्रबंध नहीं किए गए है। जिसके कारण गंदा व बारिश का पानी जमा हो रहा है। जिससे संक्रामक बीमारी होने की संभावना बढ़ गई है। वार्डवासी पीआर गजभिए ने बताया कि पंचायत द्वारा पक्की नालियों का निर्माण कार्य नहीं करवाया है। जबकि बार-बार आवेदन किया गया। जिसे पंचायत ने गंभीरता से नहीं लिया। जिसके कारण समस्या जस की तस बनी हुई है। नालियों का निर्माण नहीं होने से सड़कों पर बरसात का गंदा पानी जमा रहता है जिसके कारण लोगों को खासकर स्कूली बच्चों को आवागमन करने में परेशानी हो रही है। वहीं गंदा पानी जमा रहने से अनेक प्रकार की संक्रामक बीमारी फैलने का खतरा भी बढ़ गया है।वार्डवासी पीआर गजभिए, वीएन मेश्राम, वायआर रामटेके, एनडी भिमटे, बीआर वासनिक, सुरेश वासनिक सहित अन्य वार्डवासियों ने पंचायत प्रबंधन से शीघ्र ही नालियों का निर्माण किए जाने की मांग की है।

Ad Block is Banned