scriptSarpanch's call, all the officials will be elected unopposed | सरपंच का आव्हान, निर्विरोध निर्वाचित होंगे सभी पदाधिकारी | Patrika News

सरपंच का आव्हान, निर्विरोध निर्वाचित होंगे सभी पदाधिकारी

सरपंच की पहल पर ग्रामीणों ने लिया सामूहिक निर्णय, छबीलाल नागेश्वर को सर्वसम्मति सेे चुना है नया सरपंच
नक्सल प्रभावित ग्राम पंचायत किन्हीं का मामला
प्रतिद्वंद्विता को एकता के सूत्र में पिरोने तीन बार के सरपंच ने छोड़ दी सरपंची
ग्राम पंचायत किन्ही ने पेश की एकता की मिशाल

बालाघाट

Published: December 22, 2021 11:11:20 pm

बालाघाट. तत्कालीन सरपंच का आव्हान और सभी ग्रामीणों ने एक मतेेन होकर गांव में निर्विरोध निर्वाचन करने का निर्णय लेे लिया। इसके लिए तीन बार के सरपंच रहे तत्कालीन सरपंच ने पद लोलुप्ता को त्यागकर सरपंची छोड़ दी। निवर्तमान सरपंच ने जहां चुनाव पर गांव की लड़ाई ही खत्म कर दी है। वहीं प्रतिद्वंद्विता की राह को एकता के हार में पिरो दिया। जबकि पंचायत चुनाव में वार्ड पंच के लिए भी पांच-पांच उम्मीदवार सगे संबधी होने के बावजूद आपस मे लड़ते हैं। लेकिन किरनापुर क्षेत्र की ग्राम पंचायत किन्हीं के तीन बार के सरपंच दयानंद धनवले के प्रयास से पूरी पंचायत बॉडी ही बगैर चुनाव के निर्विरोध आम सहमति से चुन ली गई है। हालांकि, अभी इसकी औपचारिक घोषणा होना शेष है। इस तरह से ग्राम पंचायत किन्ही के ग्रामीणों ने एकता की मिशाल पेश की है।
जानकारी के अनुसार ग्राम पंचायत किन्हीं में २० वार्ड पंच और एक सरपंच के लिए वर्षों से पंचायत चुनाव लडऩे की नीति चले आ रही है। ऊपर से इस गांव के चुनाव भी बड़े टसल के होते थे जिसमें क्षेत्रवासियों की निगाहें भी बनी रहती थी। लेनिक उस परम्परा को तोड़ते हुए इस बार सरपंच दयानंद धनवले के त्याग और गांव के सामाजिक समरता, भाईचारे को कायम रखने की उनकी सोच के चलते इस बार एक नया इतिहास बनाने की ओर ग्राम पंचायत किन्हीं बढ़ चुकी है।
सरपंच के बुलावे पर ग्रामीणों ने लिया निर्णय
चुनाव की तिथि करीब आते-आते गांवों में बहुत जगह प्रत्याशियों का आमना-सामना होता है जिसमें टकराहट भी देखने मिलती हैं। चुनाव हारने जीतने का मलाल ऐसा की प्रत्याशी जिंदगीभर रंजिशें पाले बैठता है। इन सबसे दूर एक गांव में सब एक दूसरे से मिलकर रहे, आपसी प्रेमभाव बना रहे, इसलिए सरपंच दयानंद धनवले ने पूरे ग्रामीणों को बुलाया और युवा छबीलाल नागेश्वर को सर्वसम्मति से सरपंच पद का इकलौता प्रत्याशी पंचायत सभागार में घोषित कर दिया। गांव में सरपंच के एक पद और दावेदार पांच थे उन्हें सरपंच दयानंद धनवले ने कहा कि हम सब अगर मिलकर पंचायत को विकास की ओर बिना रूकावट के ले जाएंगे, वहीं पंचायतों के कामों में दिक्कत न कर सहयोगी के रूप में काम करेंगे तो आगे बारी-बारी से सबको मौका गांव वालों की मंजूरी के बाद दिया जाएगा। इस फार्मूले से बाकी प्रत्याशी को सरपंच दयानंद धनवले ने मना लिया।
सरपंच के प्रयासों को मिल रही सराहना
देखने में आता है कि कोई भी जनप्रतिनिधि पंच से लेकर देश के शिखर पर बैठता है तो उसके बाद अधिकतर जनप्रतिनिधि उस सीट को अपना एकाधिकार मानकर कुंडली मारकर बैठ जाते है और सालों से निर्वाचित होने के बावजूद दूसरे के लिए जगह खाली नहीं करते है। वहीं ग्राम पंचायत किन्ही में सरपंच दयानंद धनवले ने चुनाव नही लडऩे की घोषणा करना हर किसी के जुबान पर छाया हुआ है।
ग्राम पंचायत में बैठक के दौरान जब ग्रामीणों को सरपंच दयानंद धनवले की मंशा पता चली तो लोगों मेें मायूसी छा गई। लोगों का एक स्वर में कहना था कि आपके नेतृत्व में ग्राम पंचायत किन्ही ने विकास की नई इबारत लिखी, जिसका परिणाम यह रहा कि हम आपको छोटे से उम्र से लगातार सरपंच पद के लिए चुनते आ रहे हैं। कुछ ग्रामीण तो इतने मायूस हो गए कि उन्होंने खुद सरपंच पद का प्रत्याशी बनने की घोषणा कर दी, तो कुछ ग्रामीण बैठक से बाहर निकल कर घर की ओर चल पड़े थे। हालांकि, बाद में सभी ने एकमतेन होकर अपना सामूहिक निर्णय दिया।
ये होंगे वार्ड पंच
ग्रामीणों द्वारा लिए गए निर्णय के अनुसार कुशराम, भूमेश्वरी, निर्मला, रमा, राधन, चमारु, राजकुमार, पारबती, कमला, जितेन्द्र, सरिता, तरासन, रामेश्वर, सुभाष, पायल, मीरा, झनक, दयानंद, तुलसी और टेकलाल को वार्ड पंच के लिए चुना गया है। ये सभी निर्विरोध निर्वाचित होंगे। हालांकि, इसमें तीन वार्ड में ओबीसी का आरक्षण होने के कारण इसका निर्णय बाद में होगा। लेकिन इन वार्डों में पंच के लिए जो नाम तय हो गए हैं, उन्हें ही पंच के लिए मौका दिया जाएगा।
सरपंच का आव्हान, निर्विरोध निर्वाचित होंगे सभी पदाधिकारी
सरपंच का आव्हान, निर्विरोध निर्वाचित होंगे सभी पदाधिकारी

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोगशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेइन 12 जिलों में पड़ने वाल...कोहरा, जारी हुआ यलो अलर्ट2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव

बड़ी खबरें

Pandit Birju Maharaj: कथक सम्राट पंडित बिरजू महाराज का निधन, 83 साल की उम्र में ली अंतिम सांसCovid 19 Update: दिल्ली में संक्रमण दर 27% के पार, पिछले 24 घंटे में आए कोरोना के 18286 नए मामलेजानिए कब भारत आएगी टेस्ला, लॉन्चिंग को लेकर क्या कहते हैं Elon MuskCovid-19 Update: महाराष्ट्र में कोरोना के 41 हजार से ज्यादा मामले, मुंबई में आए 7895 नए केसभारतीय महिलाएं हर माह परिवार पर 40 हजार करोड़ कर रहीं कुर्बानतीसरी लहर में स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना किट से हटा दी तीन दवाइयां, दावा सामान्य लक्षण वाले मरीज 5 दिन में हो रहे ठीकBSP अफसरों के लिए अच्छी खबर, अब यूनिफॉर्म, धुलाई, सेल्फ डेवलपमेंट, इंटरनेट, अटेंडेंट का मिलेगा भत्ता, SAIL ने जारी किया आदेशpetrol diesel price today: 74वें दिन पेट्रोल-डीजल के दाम स्थिर
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.