महाअष्टमी में मंदिरों में विशेष पूजा-अर्चना, मातारानी को लगाया भोग

कन्याओं का पूजन कर कराया कन्या भोज, देवी मंदिरों में हुए हवन-पूजन

By: Bhaneshwar sakure

Published: 13 Oct 2021, 09:46 PM IST

बालाघाट. शारदेय नवरात्र पर्व की महाअष्टमी के मौके पर भक्तों ने मां के अष्टम स्वरूप मॉ महागौरी की पूजा-अर्चना करने के साथ घर-घर कन्या पूजन किया। श्रद्धालुओं ने कन्या भोज कराने के साथ माता रानी को भोग भी लगाया। वहीं अनेक स्थानों पर हवन-पूजन भी किया गया। दुर्गा अष्टमी नगर के काली पाठ मंदिर, गौली मोहल्ला स्थित काली मंदिर, दुर्गा मंदिर, त्रिपुर सुंदरी मंदिर सहित अन्य देवी मंदिरों में आज पूजा-अर्चना करने के लिए भक्तों की भीड़ नजर आई। पूजन-अर्चन का यह सिलसिला पूरे दिन भर रहा। उल्लेखनीय है कि कोरोना संक्रमण काल के बाद अनलॉक होने पर इस वर्ष मंदिरों में नवरात्र पर्व पर भक्तों की भीड़ अधिक नजर आई।
इधर, १४ अक्टूबर को नगर मुख्यालय सहित पूरे जिले में नवमीं पर्व मनाया जाएगा। इसी के साथ नौ दिनों से चल रहे नौ दिवसीय चैत्र नवरात्रा पर्व का भी समापन हो जाएगा। वहीं १५ अक्टूबर को दशहरा पर्व मनाया जाएगा। बालाघाट जिले का दशहरा पर्व पूरे प्रदेश में अलग तरीके से मनाया जाता है। यहां पर पानीपत की तर्ज पर दशहरा पर्व पर चल समारोह निकाला जाता है। जिसका सभी श्रद्धालुओं को साल भर से इंतजार रहता है।

Bhaneshwar sakure
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned