२३ हजार रुपए की रिश्वत लेते एसआई गिरफ्तार

२३ हजार रुपए की रिश्वत लेते एसआई गिरफ्तार

Bhaneshwar Sakure | Publish: Mar, 14 2018 05:13:44 PM (IST) Balaghat, Madhya Pradesh, India

लोकायुक्त पुलिस ने की कार्रवाई

बालाघाट. जिले में एक बार फिर वर्दी दागदार हुई है। इस बार एक उपनिरीक्षक ने कार्रवाई नहीं करने के एवज में रिश्वत की मांग की थी। उसे रिश्वत भी मिली, लेकिन रिश्वत के साथ वह गिरफ्तार भी हो गया। एसआई को रिश्वत लेते लोकायुक्त पुलिस जबलपुर ने गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार एसआई मधुकर घोड़ेश्वर मलाजखंड थाने में पदस्थ है।
डीएसपी लोकायुक्त दिलीप झरवड़े ने बताया कि मलाजखंड थाना में पदस्थ एसआई मधुकर घोड़ेश्वर को बुधवार को २३ हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। लोकायुक्त पुलिस ने यह कार्रवाई थाना क्षेत्र के अंडूटोला निवासी राजेन्द्र यादव की शिकायत पर की है। राजेन्द्र यादव के खिलाफ घरेलू ङ्क्षहसा की एक शिकायत मलाजखंड थाने में दी गई थी। इस मामले में एसआई मधुकर घोड़ेश्वर ने राजेन्द्र यादव के खिलाफ कार्रवाई और एफआईआर दर्ज नहीं किए जाने के लिए २५ हजार रुपए की रिश्वत की मांग की थी। इस कार्रवाई के दौरान डीएसपी दिलीप झरवड़े के अलावा निरीक्षक मनोज गुप्ता, कमल उइके, आरक्षक अतुल श्रीवास्तव, जुबेद खान, जीत सिंह मौजूद थे।
मोहगांव में हुई कार्रवाई
डीएसपी दिलीप झरवड़े ने बताया कि एसआई ने २५ हजार रुपए के रिश्वत की मांग की थी। जिसके आधार पर फरियादी ने बुधवार को २३ हजार रुपए देने के लिए मोहगांव में स्टेट बैंक के समीप जगह तय की गई थी। जहां नियत स्थान पर पीडि़त राजेन्द्र यादव द्वारा एसआई घोड़ेश्वर को २३ हजार रुपए दो हजार व पांच सौ रुपए की नोट के साथ प्रदान किए थे। जिसे लोकायुक्त ने रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया। इस मामले में एसआई मधुकर घोड़ेश्वर के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत अपराध दर्ज कर मामले को जांच में लिया गया है।
एक व्यक्ति ने फांसी लगा की आत्महत्या
बालाघाट. नगर के वार्ड नंबर २४ झुग्गी झोपड़ी निवासी उदय पिता मेहतलाल सोनवाने (४०) ने सोमवार की रात घर में फांसी लगा आत्महत्या कर ली। इसकी सूचना कोतवाली थाना को मिलने पर पुलिस ने मौके पर पहुंच आवश्यक कार्रवाई की। पुलिस ने बताया कि मृतक मजदूरी करता था जिसकी पत्नी है तीन बच्चे है। पत्नी घरेलू विवाद के चलते अपने बच्चों के साथ पति से अलग रहती थी। मृतक का प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मकान भी बन रहा था। उदय शराब पीने का आदी था जिसने रात्रि में फांसी लगा ली। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कार्रवाई कर मर्ग कायम किया।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned