नल-जल योजना अधूरी मोटर पंप ले गए चोर

क्षेत्र की ग्राम पंचायत लखनवाड़ा मामला, पेयजल के लिए परेशान हो रहे रहवासी

By: mukesh yadav

Updated: 27 Oct 2018, 11:47 AM IST

कटंगी। क्षेत्र की ग्राम पंचायत लखनवाड़ा में ग्रामीणों की पेयजल समस्या का समाधान करने के लिए लाखों रुपए की लागत से शुरू होने वाली नल-जल योजना अब तक अधूरी है। इस योजना को 6 माह पूर्व ही शुरू हो जाना था। लेकिन अज्ञात चोरों के द्वारा मोटर पंप चोरी होने की वजह से यह योजना बीच में ही लटक गई। चौकानें वाली बात तो यह है कि विभाग ने अब तक इस मामले की रिपोर्ट नहीं कराई है। वहीं विभागीय साईड पर यह योजना पूर्ण होना बताया जा रहा है। जबकि जमीनी हकीकत तो कुछ और ही है। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के सहायक यंत्री ने बताया कि इस मामले की अब शीघ्र ही थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई जाएगी। उल्लेखनीय है कि विभाग ने पाईप लाईन का परीक्षण करने के लिए कूप में मोटर पंप लगाया था। जिसे दो दिन बाद ही अज्ञात चोरों ने उड़ा दिया।
ग्रामीणों ने बताया कि गांव में पीने के पानी की काफी किल्लत है। गर्मी के दिनों में हंैडपंप का जलस्तर नीचे चले जाता है। ऐसे में दूर-दराज से पानी लाना पड़ता है। उन्होंने बताया कि विभाग ने कुछ दिन पहले नल-जल योजना का परीक्षण करने के लिए मोटर पंप लगाया था। लेकिन अज्ञात चोरों ने मोटर चोरी कर ली। इसके बाद यह योजना शुरू ही नहीं हो सकी। जानकारी के मुताबिक उक्त योजना से लाभ लेने के लिए गांव के करीब 52 लोगों ने अपने घरों में कनेक्शन करवाया है। यह सभी इस योजना के शुरू होने का इंतजार कर रहे है। इधर, विभागीय अधिकारी इस योजना को शुरू करने के लिए किसी भी तरह का कोई प्रयास करते नजर नहीं आ रहे है। बताया जा रहा है कि विभाग ने कूप बनाने से पूर्व बोरिंग भी किया था। लेकिन पर्याप्त मात्रा में पानी का स्रोत नहीं मिल पाया है।
ग्रामीणों में आक्रोश
ग्राम पंचायत में लाखों रुपए की लागत से स्वीकृत हुई नलजल योजना का कार्य अधूरा होने से ग्रामीणों में अब आक्रोश पनपने लगा है। दरअसल, इस योजना के शुरू नहीं होने के कारण गांव के लोग अल सुबह से ही पानी के लिए हैंडपंप तथा कूप की ओर दौड़ लगाते है। जिसमें वृद्ध हो या जवान सभी पेयजल की व्यवस्था करते दिखाई देते है। गर्मी के मौसम में बमुश्किल ग्रामीणों को पीने का पानी मिल पाता है। बहरहाल, नल-जल योजना की आश में जिन ग्रामीणों ने अपने घरों में नल कनेक्शन लगाया था वह अब नल उखाडऩा शुरू कर चुके है। सबसे बड़ा सवाल तो यही है कि अधूरी नल जल योजना के सहारे ग्रामीणों की प्यास कैसे बुझेगी।
इनका कहना है-
नल-जल योजना का परीक्षण करने के लिए कुप में मोटर पंप लगाया गया था। जिसे अज्ञात चोरों ने चोरी कर लिया। अब तक रिपोर्ट नहीं करवाई है। योजना को शीघ्र ही पूरा कर लिया जाएगा।
एनआर डोंगरे, सहायक यंत्री पीएचईडी

mukesh yadav Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned