महकेपार पुलिस चौकी प्रभारी की कार्रवाई संदेह के घेरे में-

रेत से भरा टे्रक्टर शाम को छोड़ा

तिरोड़ी। तिरोड़ी तहसील एवं पठार अंचल में अवैध रेत उत्खनन एवं परिवहन को पुलिस प्रशासन ही बढ़ावा दे रहा है। इसकी एक बानगी बुधवार को उस वक्त देखने को मिली जब महकेपार पुलिस चौकी में अवैध रेत परिवहन करते जब्त किया गया एक टे्रक्टर शाम ढलते ही बिना किसी कागजी कार्रवाई के छोड़ दिया गया। इस संबंध में महकेपार पुलिस चौकी प्रभारी अनुप यादव से चर्चा करने पर उन्होंने टे्रक्टर की जब्ती से साफ इंकार कर दिया है। ऐसे में बड़ा सवाल तो यह है कि अगर पुलिस ने जब कोई जब्ती की कार्रवाई नहीं की तो फिर पुलिस चौकी में रेत से भरा टे्रक्टर जो देर शाम तक खड़े रहा वह बिना चौकी प्रभारी के संज्ञान में लाए कहां चले गया। बता दें कि बुधवार की सुबह करीबन 11 बजे के आस-पास कोसुम्बा से रेत का परिवहन करते हुए टे्रक्टर को जब्त किया गया था। जिसे चौकी में लाकर खड़ा भी किया गया। अगर, इसके बावजूद भी चौकी प्रभारी को जब्ती की कार्रवाई याद नहीं आ रही है, तो यह तस्वीर इस काम में उनकी मदद कर सकती है जो चौकी के भीतर रेत से भरे टे्रक्टर की है।
उल्लेखनीय है कि क्षेत्र में रेत माफिया सक्रिय है। दो राज्यों की जीवनदायिनी बावनथड़ी नदी से लेकर छोटे-छोटे नालों से बेखौफ रेत का उत्खनन किया जा रहा है। रेत माफियाओं को न तो शासन का और न ही प्रशासन का डर है। रेत माफियाओं का दावा है कि प्रशासन को मैनेज करके चल रहे हैं, रेत के इस कारोबार में एक पंचायत के पंच से लेकर खनिज विभाग के अधिकारी, पटवारी, पुलिस सब सेट है। जिसके चलते धड़ल्ले से बेखौफ होकर नदी का सीना चीरकर रेत निकाली जा रही है। रेत के इस कारोबार को लेकर कहीं कोई निगरानी नहीं हो रही है, न ही रेत माफियाओं के खनन की कोई सीमा है। रेत माफिया मनचाहे तरीके से रेत का अवैध उत्खनन कर रहे हैं। वहीं जिम्मेदार कार्रवाई करने की बजाए रेत माफियाओं से पैसा लेकर चुप्पी साधे हुए हैं। गौरतलब हो कि बावनथड़़ी नदी में अवैध रेत उत्खनन किस तरह से किया जा रहा है, यह बात किसी से छिपी नहीं है। लेकिन खनिज विभाग, पुलिस प्रशासन तथा राजस्व विभाग के अधिकारी इसे गंभीरता से नहीं लेते। यहीं कारण है कि चारों तरफ चल रहे रेत के अवैध कारोबार पर जिम्मेवारों द्वारा अंकुश लगाने के वजाय उन्हें खुली छूट दिया जाना इन दिनों आम बात हो चुकी है।
इनका कहना है-
किसी भी तरह के टे्रक्टर की जब्ती की कार्रवाई मेरे संज्ञान में नहीं है। हम स्टॉफ से जानकारी लेते हैं।
अनुप यादव, महकेपार चौकी प्रभारी

mukesh yadav Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned