चरित्र संदेह पर की थी महिला की हत्या

mukesh yadav

Publish: Oct, 12 2017 08:02:03 (IST)

Balaghat, Madhya Pradesh, India
चरित्र संदेह पर की थी महिला की हत्या

तिरोड़ी के अंधे हत्याकांड का पुलिस ने किया पर्दाफास

बालाघाट. जिले की तिरोड़ी पुलिस ने एक अंधे हत्याकांड का पर्दाफास करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। इस मामले में उक्त महिला का हत्यारा उसके साथ रहने वाला आदमी ही निकला। जिसने अपना जुर्म कबूल करते हुए चरित्र संदेह को हत्या का कारण बताया है। इस मामले में पुलिस ने शेषराव पिता प्रभुजी बकाल जाति कुनबी (37) निवासी झंडा चौक नागपुर को गिरफ्तार कर उसके विरुद्ध धारा 302, 201 आईपीसी के तहत कार्रवाई की जा रही है।
यह है पूरा मामला
पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार 09 अक्टूबर १७ को एक अज्ञात महिला की अधजली लाश तिरोड़ी से खवासा की ओर जाने वाले मार्ग किनारे जंगल से बरामद किया गया था। पुलिस ने प्रथम दृष्टया मर्ग दर्ज कर मामले की विवेचना शुरू की। इसके बाद महिला की शिनाख्त वंदना टीकाराम धार्मिक कोष्ठी (42) गांधी पुतला के पीछे कुनबीपुरा नागपुर की निवासी के रूप में की गई। मामले की बारिकी से जांच करने पर पता चला की मृतिका शेषराव के साथ झंडा चौक नागपुर में रहती थी।
ऐसे दिया हत्या को अंजाम
पुलिस के अनुसार आरोपी को महिला के चरित्र पर संदेह था। आरोपी ने महिला की हत्या करने की साजिश रची और दिनांक 07 अक्टूबर को आरोपी ने मृतिका वंदना को अपने दोस्त की काले रंग की इंडिका वाहन क्रमांक एमएच 40 1610 मे बैठाकर पानी की एक बोतल में एक लीटर पेट्रोल तथा रस्सी लेकर नागपुर से भंडारा व सिवनी होते हुए रिद्दीटेक पीपरवानी के पास बावनथड़ी पुल के पास लाकर 07-08 अक्टूबर की रात में महिला की रस्सी से गला रेत कर मृत्यु कारित किया। ग्राम सीतापठोर पीपरवानी के पास अंदर जंगल में मृतिका के शव को फेंककर साक्ष्य छुपाने के उद्देश्य से पेट्रोल डालकर आग लगा दिया व नागपुर वापस लौट गया।
जांच को मिलेगा ईनाम
प्रकरण में आरोपी शेषराव को १२ अक्टूबर को विधिवत् गिरफ्तार कर न्यायालय पेश कर पुलिस रिमांड लिया गया है। साक्ष्य एकत्र किए जा रहे हंै। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक बालाघाट जोन द्वारा प्रकरण को चिन्हित कर सनसनीखेज की परीधी में लाकर टीम को नकद ईनाम देने की घोषणा की गई है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned