शिवनारायण की हत्या का खुलासा, प्रेमप्रसंग के चलते हुई थी हत्या

हत्या के 5 आरोपियों को भेजा जेल

By: mukesh yadav

Updated: 09 Mar 2020, 07:51 PM IST

तिरोड़ी। तिरोड़़ी थाना क्षेत्र के ग्राम पुलपुट्टा और कपुरबिहरी के बीच जंगल से बरामद शव की पुलिस ने गुत्थी सुलझा ली है। पुलिस के अनुसार प्रेमप्रसंग के चलते हत्या का मामला है। मिली जानकारी अनुसार दो दिन पूर्व पुलिस ने कपुरबिहरी (हथोड़ा) निवासी शिवनारायण नेटी की लाश जंगल से सड़ी अवस्था में बरामद की थी। गीताबाई ने 2 मार्च को अपने पुत्र शिवनारायण के गुमशुदगी की रपट दर्ज करवाई थी। वहीं 7 मार्च को शिवनारायण का शव पुलिस ने जंगल से बरामद किया था। जिसकी गर्दन पर किसी हथियार के चोट के निशान थे। पुलिस ने मृग कायम कर जांच कर पतासाजी की। पुलिस ने इस पुरे मामले में 5 आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया जहां से सभी को जेल भिजवा दिया।
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के मार्गदर्शन एवं अनुविभागीय अधिकारी पुलिस ने नेतृत्व में इस हत्या की गुत्थी सुलझाने के लिए एक टीम का गठन किया गया था। पुलिस ने बताया कि मृतक की हत्या का कारण पता करने के लिए गांव में आस-पास के लोगों से पुछताछ की गई जिसमें पता चला कि उससे किसी की कोई रंजीश या लड़ाई नहीं थी। लेकिन गांव के ही सुकचरण की पत्नी के साथ प्रेम संबंध थे। पुलिस ने संदिग्ध सुकचरण को पुलिस अभिरक्षा में लेकर कड़ाई से पुछताछ की। इसके बाद आरोपी ने कबूल किया कि मृतक और उसकी पत्नी के बीच प्रेम संबंध थे। जिसके चलते शिवनारायण उसके घर आता-जाता रहता था। यह बात पता चलने पर उसने अपने दोस्त संजय, अंकुश, महेन्द्र और सियाराम के साथ मिलकर शिवनारायण के हत्या की योजना बनाई। 1 मार्च को जब शिवनारायण अपना इलाज कराने के लिए बोनकट्टा गया था, तभी सुकचरण और उसके दोस्त संजय ने अपने अन्य साथियों को फोन लगाकर बीच रास्ते में बुला लिया। यहां से शिवनारायण को वह अपने साथ जंगल ले गए जहां लाठी, डंडों से जमकर मारपीट की और फिर चाकू से गला रेत कर हत्या कर दी और शव को पत्थर के बीच में छिपा दिया। मृतक की बाइक को जंगल में छिपा कर मोबाईल तोड़ दिया। पुलिस ने मृतक की बाइक एवं घटना में उपयोग की जाने वाली सारी सामग्री भी जब्त कर ली है। इस हत्या का खुलासा करने में तिरोड़़ी थाना प्रभारी जशवंत सिंह मीणा, उनि अनुप यादव, मानसिंह चौधरी, सउनि जीएल अहिरवार, प्रआर तरुण सोनेकर, आर हेमंत बघेल, लक्ष्मी बघेल, शिवम बघेल, नीरज सनोडिय़ा, नागेश बघेल, बबन गौतम की सराहनीय भूमिका रही।

mukesh yadav Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned