संग्रहालय की शोभा बढ़ाएगी छुकछुक की बोगी

पुरातत्व संग्रहालय का कलेक्टर ने किया निरीक्षण
बैठक कर जीर्णोद्वार किए जाने का दिलाया भरोसा

By: mukesh yadav

Updated: 10 Jan 2019, 09:06 PM IST

बालाघाट. शहर के इतिहास एवं पुरातत्व शोध संस्थान संग्रहालय का गुरूवार को कलेक्टर दीपक आर्य ने निरीक्षण किया। निरीक्षण के बाद कलेक्टर आर्य ने संग्रहालय में ही एक बैठक ली। इस दौरान उन्होंने संग्रहालय में स्थापित छुक-छुक की बोगी (नैरोगेज ट्रेन) की जीर्णोद्वार किए जाने सहित अन्य मुद्दों पर चर्चा कर सकारात्मक परिणाम का भरासा दिलाया।
कलेक्टर ने बैठक की अध्यक्षता करते हुए महत्वपूर्ण निर्णय लिए। इस अवसर पर संग्रहाध्यक्ष आचार्य डॉ वीरेन्द्र सिंह गहरवार ने प्रस्ताव प्रस्तुत किया। जहां त्वरित निर्णय लिया गया। संग्रहालय परिसर की बाउंड्रीवाल में जाली लगाना, संग्रहालय भवन में फ्लोरिंग कार्य, परिसर में माली की व्यवस्था, संग्रहालय परिसर के पास बड़े-बड़े होर्डिग्ंस, दुकानें संचालित हो रही है उन्हें व्यवस्थित किए जाने, वाहनों की पार्किंग, अतिक्रमण मुक्त, संग्रहालय परिसर के उत्तर एवं पश्चिम में तार लगाकर उस जगह पर बगीच लगाकर सौन्दर्यीकरण करने पर विस्तृत चर्चा की गई। वहीं कलेक्टर ने बैठक में शीघ्र ही हट्टा की बावली का निरीक्षण किए जाने की बात भी कही। कलेक्टर आर्य ने नैरोगेज बोगी एवं पुरातत्व संग्रहालय में रखी पाषाण प्रतिमाओं का भी सूक्ष्म अवलोकन कर भविष्य में धरोहरों को आकर्षित बनाए जाने आश्वासन दिया। बैठक में संस्थान अध्यक्ष कविता गहरवार, भू गर्भ सचिव डॉ संतोष सक्सेना, एसडीओ पीडब्ल्यूडी जमील अख्तर खान, हरिलाल नगपुरे, समीर सिंह गहरवार, प्रभु कटारे, बाबूलाल गोमासे, सुभाष गुप्ता, सचिन सिंह गहरवार, सुरेश रंगलानी, अरुण जैन, मिश्री लाल साहू, कुलदीप बिल्थरे, गेंदलाल पांचे आदि उपस्थित थे।

mukesh yadav Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned