मतदाता सूची के पुनरीक्षण का कार्य 26 दिसम्बर से होगा प्रारंभ

मतदाता सूची के पुनरीक्षण का कार्य 26 दिसम्बर से होगा प्रारंभ

Bhaneshwar Sakure | Updated: 20 Dec 2018, 08:41:46 PM (IST) Balaghat, Balaghat, Madhya Pradesh, India

राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों को दी गई जानकारी

बालाघाट. भारत निर्वाचन आयोग द्वारा आगामी लोकसभा चुनाव-2019 के लिए तैयारियां प्रारंभ कर दी गई है। लोकसभा चुनाव-2019 के लिए मतदाता सूची के संक्षिप्त पुनरीक्षण का कार्यक्रम निर्धारित कर दिया गया है। इसी परिप्रेक्ष्य में 19 दिसंबर को कलेक्टर और जिला निर्वाचन अधिकारी डीवी सिंह की अध्यक्षता में राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों की बैठक का आयोजन किया गया था। बैठक में मतदाता सूची के पुनरीक्षण, मतदान केन्द्रों के युक्तियुक्तकरण के संबंध में विस्तृत जानकारी दी गई। बैठक में उप जिला निर्वाचन अधिकारी संदीप सिंह भी मौजूद थे।
कलेक्टर सिंह ने बैठक में बताया कि भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार बालाघाट जिले के सभी 6 विधानसभा क्षेत्रों में निर्वाचक नामावली का विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण 26 दिसम्बर 2018 से प्रारंभ होगा। कार्यक्रम के तहत एक जनवरी 2019 को 18 वर्ष की आयु पूरी करने वाले सभी पात्र मतदाता के नाम निर्वाचक नामावली में जोड़े जाएंगे। जिन युवाओं की आयु 18 वर्ष की हो चुकी है और जिनके नाम मतदाता सूची में नहीं जुड़े है ऐसे युवा और जिनकी आयु 1 जनवरी 2019 को 18 वर्ष की हो रही है, वे युवा अपने क्षेत्र के मतदान केन्द्र पर जाकर वहां के बीएलओ को प्रारूप-6 में अपने रंगीन पासपोर्ट साईज के दो फोटोग्राफ व आयु संबंधी दस्तावेज के साथ मतदाता सूची में नाम शामिल करने के लिए आवेदन कर सकते है। कलेक्टर ने बताया कि जिले के सभी पात्र युवाओं के नाम मतदाता सूची में शामिल करने के लिए विशेष अभियान चलाया जाएगा। जिले के सभी कालेजों व हायर सेकेंडरी स्कूलों के प्राचार्यों को निर्देशित किया जा रहा है कि वे अपनी संस्थाओं के 18 वर्ष के युवाओं को मतदाता सूची में नाम शामिल करने के लिए प्रोत्साहित करें और उनसे प्रारूप-6 में आवेदन करवाएं।
मृत मतदाताओं के नाम हटाए जाएंगे
बैठक में बताया गया कि मतदाता सूची के पुनरीक्षण के दौरान मृत हो चुके मतदाताओं के नाम सूची से हटाने की कार्रवाई की जाएगी। राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों से कहा गया कि वे मृत मतदाताओं के नाम सूची से हटाने के लिए प्रारूप-7 में आवेदन करवाएं। इसी प्रकार जिन व्यक्तियों के नाम विधानसभा चुनाव-2018 के दौरान मतदाता सूची में शामिल नहीं थे और वे उस क्षेत्र के निवासी थे, ऐसे व्यक्तियों से भी मतदाता सूची में नाम शामिल करने के लिए प्रारूप-6 में आवेदन करने कहा गया है। जिन मतदाताओं के नाम में त्रुटि है या आयु गलत लिखी है या उनके पिता-पति का नाम गलत लिखा है या उनकी फोटो में गलती है तो ऐसे मतदाता संशोधन के लिए प्रारूप-8 में आवेदन कर सकते है।
जिले में आई नई बहुओं के नाम जोडऩे विशेष प्रयास
बैठक में बताया गया कि जिले में विवाह कर आयी नई बहुओं एवं 18 वर्ष की युवतियों के नाम मतदाता सूची में शामिल करने के लिए विशेष ध्यान दिया जाएगा। जिले में आई नई बहुओं से कहा गया है कि वे जिले की मतदाता सूची में नाम शामिल करने के लिए प्रारूप-6 में अपने क्षेत्र के मतदान केन्द्र में बीएलओ को आवेदन करे और यदि उनका मायके के स्थान की मतदाता सूची में नाम शामिल है तो वे आवेदन में अपने मतदाता पहचान पत्र का विवरण दें। इससे उन्हें मायके की सूची से नाम हटवाने के लिए आवेदन नहीं करना होगा। ईपिक नंबर से ही उस बहु का नाम मायके वाली मतदाता सूची से हटा दिया जाएगा।
नाम जोडऩे 25 जनवरी तक करना होगा आवेदन
बैठक में बताया गया कि मतदाता सूची के पुनरीक्षण कार्यक्रम में शुक्रवार 26 दिसम्बर को फोटो युक्त मतदाता सूची का प्रारूप प्रकाशन किया जाएगा। प्रारूप प्रकाशन के साथ ही मतदाता सूची में नाम शामिल करने, नाम को संशोधित करने व मृत व विस्थापित मतदाताओं के नाम सूची से हटाने के लिए दावे आपत्ति लेना प्रारंभ कर दिया जाएगा। दावे आपत्ति प्रस्तुत करने की अंतिम तिथि 25 जनवरी 2019 रखी गई है। प्राप्त दावे आपत्तियों का 11 फरवरी 2019 को निराकरण किया जाएगा। डाटाबेस एवं कंट्रोल टेबल को अपडेट करने के साथ ही पूरक सूची की तैयारी तथा मुद्रण कार्य 18 फरवरी 2019 को किया जाएगा और 22 फरवरी 2019 को निर्वाचक नामावली का अंतिम प्रकाशन होगा और इसी सूची के आधार पर आगामी लोकसभा चुनाव-2019 सम्पन्न कराए जाएंगे।
41 मतदान केन्द्रों के भवनों का युक्तियुक्तकरण
बैठक में राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों से कहा गया कि वे प्रत्येक मतदान केन्द्र के लिए अपना बूथ लेवल एजेंट शीघ्र नियुक्त करें। बैठक में बताया गया कि जिले के 1637 मतदान केन्द्रों में से 41 मतदान केन्द्रों के भवनों का युक्तियुक्तकरण किया जाना है। मतदान केन्द्र का भवन जीर्ण-शीर्ण होने के कारण उसे नए शासकीय भवन में स्थानांतरित किया जाना है। विधानसभा क्षेत्र बैहर के 22, लांजी के 7, वारासिवनी के 3, कटंगी के 9 मतदान केन्द्रों का युक्तियुक्तकरण कर उन्हें नए भवन में बनाए जाने का प्रस्ताव तैयार किया गया है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned