जिस समाज का नेतृत्व असंगठित,  उस समाज में अत्याचार होता है

समता सैनिक दल ने मनाया शौर्य दिवस

By: mukesh yadav

Published: 04 Jan 2018, 06:47 PM IST

बालाघाट. भीमा-कोरेगांव की लड़ाई को 200 साल पूरे होने पर समता सैनिक दल तहसील शाखा कटंगी एवं तिरोड़ी के संयुक्त तत्वाधान में शौर्य दिवस मनाया गया। इस अवसर पर स्थानीय बस स्टेंड स्थित अंबेडकर विहार तथा बुद्ध अम्बेडकर मिशन प्रचार कंेद्र सीताखोह में महार सैनिकों की शहादत को याद करते हुए श्रृद्धाजंलि देने के लिए शौर्य दिवस पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया।
कार्यक्रम जिला अध्यक्ष प्रदीप उके की अध्यक्षता, अधिवक्ता संजय खोब्रागड़े के मुख्य आतिथ्य व रमेश गेडाम, सुरेंद्र गजभिए, डीडी मेश्राम, डीडी गजभिए, रामचन्द्र मेश्राम, किरण खोब्रागड़े, वीपी भालधरे के विशेष अतिथ्य में आयोजित हुआ था। सीताखोह में समता सैनिक दल के नेतृत्व में समता रैली निकालकर तथागत बुद्ध व डॉ बाबा साहब अम्बेडकर मूर्ति के समक्ष बुद्ध वंदना सम्पन्न कर ध्वज को सलामी दी गई।
संगठित रहने की दी नसीहत
कार्यक्रम में मुख्य अतिथि संजय खोब्रागढ़े ने कहा कि जिस समाज का नेतृत्व असंगठित रहता है उस अत्याचार होता है। इसलिए संगठित रहे। वहीं प्रदीप उके ने कहा कि 200 साल पहले अंग्रेजों की तरफ से महारों ने पेशवा सेना से युद्ध किया था। इस युद्ध में हताहत हुए महार सैनिकों के सम्मान में एक विजय स्तंभ बनाया गया है। इस युद्ध के 200 साल पूरे हो गए हैं।
इनका रहा योगदान
इस अवसर पर जेडी मेश्राम, रमेश गेडाम, विष्णु भालाधरे, हेमंत चौहान, दिपेन्द्र हिरकने, दिलीप चौरे, सुनील डोगरे, डीडी गजभिए, कपिल मेश्राम, साधना मंडाले सहित अन्य उपस्थित रहे। वहीं कार्यक्रम में राकेश वारके, दिलीप चौरे, माधवराव खोब्रागड़े, प्रदीप मंडाले, संजय कोल्हे, मुकेश चौरे कपिल नागदेवे, विक्रांत भालधरे, विक्की भालाधरे, नवीन मंडाले, संदीप हुमनेकर, प्रदीप हुमनेकर, राजा चौरे, विवेक मेश्राम सहित सैकड़ों महिला, पुरुष कार्यक्रम में शरीक हुए।

कलश शोभायात्रा
कटंगी. क्षेत्र अंतर्गत आने वाली ग्राम पंचायत नंादी में गुरूवार से संगीतमय भागवत कथा का आयोजन किया जा रहा है। इस अवसर पर प्रथम दिवस 51 कलशों के साथ भव्य शोभायात्रा निकली। जिसने पूरे गांव का भम्रण किया। पूज्य देवकीनंद ठाकुर के शिष्य ब्रजवासी सुखपाल जी महाराज कथा का वाचन करेंगे।

mukesh yadav Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned