बेटे ने ही उतारा था मॉ को मौत के घाट

पुलिस ने किया अंधे कत्ल का खुलासा-

By: mukesh yadav

Published: 18 Jul 2019, 08:13 PM IST

कटंगी/तिरोड़ी। तिरोड़ी थाना अंतर्गत आने वाले चोर पिंडेकपार में 5 दिन पहले घटित अंधे हत्याकांड की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। तिरोड़ी पुलिस ने इस मामले में मृतिका के पुत्र को हिरासत में लिया है। पुलिस ने १८ जुलाई को प्रेसवार्ता कर इस हत्याकांड के बारे में विस्तार से जानकारी दी। एसडीओपी सुमित केरकेट्टा ने बताया कि 13 जुलाई को फरियादी संजय इड़पाचे ने थाने में अपनी मॉ की हत्या की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। सूचना वरिष्ट अधिकारियों को दी गई थी। वहीं प्रकरण की गंभीरता को दृष्टिगत रखते हुए पुलिस अधीक्षक अभिषेक तिवारी एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक आकाश भूरिया के निर्देशन पर तिरोड़ी थाने की एक टीम बनाई गई। जिससे मामले का खुलासा किया।
पुलिस ने बताया कि संजय इड़पाचे जुआ खेलने का आदि है तथा गांव में बहुत ज्यादा उधारी ले रखा था। अभी तीन चार दिन से लगातार वह अपनी मां के घर जा रहा था। 12 जुलाई को भी वह सुबह से लेकर शाम तक मॉ के पास गया था। इसके अलावा मृतिका के पीएम रिपोर्ट से यह बात साबित हुई कि करीब 12 घंटे पहले मृतिका की हत्या हुई थी। इसी दौरान मुखबिर से सूचना मिली की बुधवार के दिन मृतिका ने अपने बेटे संजय से 5 हजार रुपए गिनवाकर आलमारी में रखवाई थी। घटना समय को संजय रुपए चोरी करने गया था तथा मृतिका के देख लिए जाने से विरोध करने पर कुल्हाड़ी मारकर हत्या कर दिया। बाद में किसी को पता नहीं चले इसलिए स्वंय ही रिर्पाट भी लिखवा दिया। संजय को हिरासत में लेकर जब पुलिस ने कड़ाई से पुछताछ की तब उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया।
इस अंधे कत्ल को सुलझाने में निरीक्षक संतोष पन्द्रे, सहायक उपनिरीक्षक मनोज मांगरे, जीआर अहिरवार, प्रधान आरक्षक गोवर्धन राहंगडाले, आरक्षक हेमंत बघेल, नीरज सनोडिय़ा, रानू माली, ओमकार उइके, उमेश पटेल, नासिर अली, प्रवीण गड़पाल भूमिका रही।

mukesh yadav Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned