स्कूल परिसर में उपेक्षा का शिकार हो रही महापुरुष की प्रतिमा

आवारा तत्वों ने पहुंचाया नुकसान, जागरूक नागरिक नागरिक राजेन्द्र चौबे ने की संरक्षण की मांग

By: mukesh yadav

Published: 23 Sep 2020, 08:58 PM IST


बालाघाट. शहर के समीपस्थ की ग्राम पंचातय गर्रा के प्राथमिक स्कूल भवन परिसर में स्थापित की गई महापुरुष राष्ट्रपिता महात्मा गांधी प्रतिमा इन दिनों उपेक्षा का दंश झेल रही है। देखरेख और संरक्षण के अभाव में आवारा तत्वों ने प्रतिमा को नुकसान पहुंचाते हुए क्षतिग्रस्त कर दिया है। इस कारण महात्मा गांधी को मानने वालों में काफी रोष व्याप्त है। गर्रा के जागरूक नागरिक राजेन्द्र प्रसाद चौबे के अनुसार कुछ वर्ष बड़े ही जोर शोर से एक कार्यक्रम कर स्कूल पसिर में गांधी जी की प्रतिमा की स्थापना की गई थी। ताकि बच्चे गांधीजी के विचारों और उनके देश के लिए किए गए बलिदान को याद कर सकें। कुछ समय तक ठीक रहा। लेकिन समय के साथ ही उनकी मूर्ति की उपेक्षा की जानी लगी। वर्तमान में लॉक डाउन के दौरान प्रतिमा को क्षतिग्रस्त कर दिया गया। लेकिन मूर्ति की सुध न तो पंचायत ले रही है और न ही स्कूल प्रबंधन। उन्होंने बताया कि लॉक डाउन के दौरान स्कूल परिसर में एक चौकीदार की व्यवस्था भी गई है। इसके बावजूद प्रतिमा का क्षतिग्रस्त होना चौकीदार की चौकीदारी पर प्रश्नचिन्ह खड़े करता है। वहीं चौबे कलेक्टर सहित अन्य अधिकारियों से मांग की है कि या तो सार्वजनिक स्थानों पर प्रतिमा स्थापित करने की अनुमति दिया जाना बंद किया जाए या फिर प्रतिमा स्थापित करने वालों को यह जिम्मेदारी सौंपी जाए कि वे उसकी सही तरह से देखरेख करें। वर्तमान में महात्मा गांधी की प्रतिमा का इस तरह से उपेक्षित होना गर्रा के गांधीवादी विचाराधारा के लोगों पर भी प्रश्न चिन्ह खड़े कर रहा है।

mukesh yadav Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned