दूसरे दिन भारतीय मजदूर संघ पदाधिकारियों का मिला समर्थन

दूसरे दिन भी जारी रही रोजगार सहायकों की हड़ताल, केन्द्र और राज्य सरकार की योजनाएं प्रभावित

By: mukesh yadav

Published: 16 May 2018, 08:50 PM IST

बालाघाट। ग्राम रोजगार सहायक, पंचायत सहायक सचिव कर्मचारी संघ के आव्हान पर 15 मई से प्रारंभ रोजगार सहायक की अनिश्चित कालीन हड़ताल दूसरे दिन भी जारी रही। दूसरे दिन हड़तालियों को भारतीय मजदूर संघ के पदाधिकारियों का समर्थन मिला। हड़ताल स्थल पर संघ के जिलाध्यक्ष राजेश वर्मा व नगर अध्यक्ष अनिमेष खरे पहुंचे। जिन्होंने मांगों जायज बताते हुए अपना समर्थन दिया।
इधर प्रदेश सहित जिला मुख्यालय में जिले की 690 ग्राम पंचायत के रोजगार सहायकों की हड़ताल में चले जाने से केन्द्र और राज्य सरकार की पंचायत के माध्यम से संचालित होने वाली निर्माण और हितग्राही मूलक योजनाओं पर इसका असर पड़ा रहा है। रोजगार सहायकों की हड़ताल में चले जाने से कार्यभार सचिव पर आ गया है। लेकिन अधिकांश कार्य ऑनलाईन होने से रोजगार सहायकों के नहीं होने से पंचायत सचिव को ऑनलाईन कार्य में काफी दिक्कतें हो रही है। जिससे जानकारी शासन स्तर पर नहीं पहुंच पा रही है।
दूसरी ओर भारतीय मजदूर संघ के बैनर तले आंदोलन कर रहे रोजगार सहायकों ने संविलियन के साथ नियमितिकरण की मांग के पूर्ण नहीं होने तक आंदोलन से वापस नहीं लौटने का निर्णय लिया है। जिससे भविष्य में ग्राम में होने वाले कार्यो में और समस्या खड़ी हो सकती है। जनपद क्षेत्र में पंचायतों में तैनात रोजगार सहायकों को शासन के आदेश और निर्देश की जानकारी त्वरित देने के लिए एक ऑफिशियल व्हाट्सअप ग्रुप बनाया गया था। सभी जनपद स्तर पर बने इस ग्रुप में उस जनपद के रोजगार सहायक शामिल थे। लेकिन आंदोलन में बैठे रोजगार सहायकों ने विरोध स्वरूप ऑफिशियल ग्रुप को छोड़कर ग्रुप से लेफ्ट हो गए हंै। रोजगार सहायक संघ कार्यवाहक अध्यक्ष बलराम गेवरीकर और मीडिया प्रभारी संतोष बम्बुरे ने कहा कि सरकार जल्द रोजगार सहायकों की मांग पूरी करें। ताकि रोजगार सहायक भी सम्मान पूर्वक जिंदगी जी सकें।
ये रहे आंदोलन में उपस्थित
रोजगार सहायकों की हड़ताल में रोजगार सहायक संघ अध्यक्ष अनिल त्रिवेदी, कार्यवाहक अध्यक्ष बलराम गेवरीकर, मीडिया प्रभारी संतोष बम्बुरे, ब्लॉक अध्यक्ष आशीष वासनिक, विनोद राहंगडाले, चंद्रमणी पारधी, गिरीश ठाकरे, अजय जुझार, योगेन्द्र ढेकवार, नारायण चौधरी, डेविड शरणागत सहित जिले के सभी पंचायतों से बड़ी संख्या में रोजगार सहायक शामिल है।

mukesh yadav Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned