बीच बचाव करने की सजा काट रही महिला, अब महिला आयोग पहुंचा मामला 

 बीच बचाव करने की सजा काट रही महिला, अब महिला आयोग पहुंचा मामला 
balaghat

Mukesh Yadav | Updated: 23 Jun 2017, 03:31:00 PM (IST) Balaghat, Madhya Pradesh, India

राज्य महिला आयोजन अध्यक्ष ने किया ट्रामा यूनिट, बालिका छात्रावास व जेल का निरीक्षण,प्रसूता, छात्राओं और महिला कैदियों से जानी समस्याएं,सर्किट हाउस में स्पेशल बैच लगाकर की 25 प्रकरणों  में सुनवाई


बालाघाट. राज्य महिला आयोग अध्यक्ष लता  वानखेड़े  शुक्रवार को अपने एक दिनी प्रवास पर बालाघाट पहुंची। इस दौरान उन्होंने शहर के जिला अस्पताल के ट्रामा सेंटर, बालिका छात्रावास और जिला जेल का निरीक्षण किया और यहां महिलाओं और छात्राओं से उनकी समस्याएं जानी। वानखेड़े ने बताया कि उन्हें जिला जेल में एक ऐसा प्रकरण भी सामने आया। जिसमें एक महिला के पति और पिता के  विवाद  हुआ था और बीच बचाव करने पहुंची, तो उसके हाथों पति घायल हो गया और अब उसे जेल की सलाखों के पीछे सजा काटनी पड़ रही है। आयोग अध्यक्ष वारखेड़े के अनुसार इस मामले में उनके द्वारा आगामी प्रयास किए जा रहे हैं।
महिला आयोग अध्यक्ष वानखेड़े के निरीक्षण के दौरान उनके साथ आयोग सदस्य गंगा उइके, जिला पंचायत अध्यक्ष रेखा बिसेन, महिला सशक्तिकरण अधिकारी और समाज सेवी मनोरमा नागेश्वर शामिल रही।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned