नए साल में प्रआर के यहां हुई चोरी का साल के अंत में खुलासा

तीन चोरियों का कोतवाली पुलिस ने किया पर्दाफाश, गोंदिया, नागपुर और दुर्ग में दे चुके हंै चोरी की घटना को अंजाम

By: mukesh yadav

Published: 30 Dec 2018, 02:37 PM IST


बालाघाट। कोतवाली पुलिस ने नए साल की 11 जनवरी को प्रधान आरक्षक दिनेश बिसेन के घर में सवा लाख रुपए नकद और 8 तोला सोना और 5 ग्राम चांदी की चोरी के मामले सहित हाल ही में रेलवे क्रार्सिंग के समीपस्थ बाबा रामदेव मंदिर में हुई चांदी के छत्र की चोरी और 4 सौ रुपए दानपेटी से चुराने एवं भटेरा के किराना दुकान में नकद चोरी मामले में चार आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस द्वारा पकड़े गए आरोपियों में पूर्व में चोरी के मामले में पकड़ाए गए शातिर चोर शामिल है। कोतवाली थाना प्रभारी महेन्द्रसिंह ठाकुर की मानें तो आरोपियों ने बालाघाट सहित गोंदिया, नागपुर और दुर्ग में भी अलग-अलग थाना क्षेत्र में चोरी करना स्वीकार किया है। पकड़ाए चार आरोपियों में निगरानी बदमाश 28 वर्षीय विकास उर्फ लूला सोनी पिता लखन सोनी को और पूछताछ के लिए पुलिस न्यायालय से पीआर लेने वाली है। ताकि और पूछताछ में चोरियों का पता चल सकें।
पकड़ाए आरोपियों में मरारी मोहल्ला निवासी विकास (32) उर्फ विक्की भपका पिता दुर्गाप्रसाद धारकर, बुढ़ी निवासी दिनेश (32) पिता वासुदेव बारमाटे और मार्डीकर गली निवासी सितेश (२७) पिता अशोक ब्रम्हें को न्यायालय में पेश करने के बाद न्यायिक रिमांड पर जेल भिजवा दिया गया है। आरोपियों को पुलिस ने एक गुप्त सूचना के बाद गिरफ्तार किया। आरोपियों ने चोरी के आभूषण को गिरवी रखने की योजना तैयार की थी। जिसमें वह पुलिस द्वारा पकड़े गए। इसके बाद कोतवाली पुलिस ने जब इनसे पकड़कर पूछताछ की तो आरोपियो ने चोरी का राज खोला। कोतवाली पुलिस ने तीन बड़ी चोरियों का पर्दाफाश किया गया है। जिसमें पुलिस को अभी एक आरोपी की और तलाश है।
मिली जानकारी पर पकड़ाए आरोपी
आरोपियों ने 11 जनवरी को यातायात विभाग में वाहन चालक प्रधान आरक्षक सुरेश बिसेन के यहां से सवा लाख रुपए और लगभग 8 तोले सोने एवं चांदी के जेवर की चोरी कर ली थी। जिसमें वह नकद रुपए को आपस में बांट चुके थे। जिसमें नकद रुपए में सबसे ज्यादा राशि विकास ने रखकर एक बाइक खरीद ली थी और सोने को बांट लिया था। चोरी किए गए सोने को वह किसी के पास गिरवी रखना चाहते थे। जिसके लिए उन्होंने किसी गिरवी रखने वालों से संपर्क किया। जिससे पुलिस को चोरों को पकडऩे की लीड मिली और पुलिस ने उस सूचना के आधार पर चोरों को पकड़ा। जिससे पूछताछ में पुलिस ने उनके और दो साथियों को गिरफ्तार करने के साथ ही बालाघाट नगर में 18 दिसंबर को बाबा रामदेव मंदिर में छत्र और नकद राशि की चोरी एवं नवंबर माह में भटेरा के किनारा दुकान में हुई नकद 26 हजार रुपए की चोरी का भी पता लगाया। पुलिस ने प्रआर के घर से चोरी किए गए सोने और चांदी के आभूषण को पूरा बरामद कर लिया है। जबकि राशि से खरीदी गई एक बाइक सहित रामदेव बाबा मंदिर से चोरी किए गए चार छत्र एवं 6 हजार रुपए नकद बरामद किए हंै।
इनका कहना है।
पुलिस को शहर में हुई चोरी के आरोपियों के बारे में पता चला था। पुलिस टीम ने आरोपियों की तलाश कर चार आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। जिनके पास से सोने, चांदी के आभूषण और नकद राशि बरामद की गई है। पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने गोंदिया, नागपुर और दुर्ग में चोरी करना बताया है। पुलिस से प्रधान आरक्षक के घर से चोरी हुए गहने और मंदिर के चोरी किए गए छत्र को बरामद कर लिया गया है।
महेन्द्रसिंह ठाकुर, थाना प्रभारी, कोतवाली थाना

mukesh yadav Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned