scriptTroubled by lack of water, then suffering due to power cuts | पानी की कमी से परेशान तो बिजली कटौती से हो रहे बेहाल | Patrika News

पानी की कमी से परेशान तो बिजली कटौती से हो रहे बेहाल

भीषण गर्मी में अघोषित कटौती, कम वोल्टेज ने बढ़ाई परेशानी
गढ़ी क्षेत्र के दो दर्जन पंचायतों में पिछले चार दिनों से बनी है समस्या

बालाघाट

Published: April 16, 2022 09:37:16 pm

बालाघाट/गढ़ी. बिजली जहां लो वोल्टेज पर हो रही है तो वहीं ग्रामीण हाई वोल्टेज पर जा रहे हैं। इतना ही नहीं बिजली की अघोषित कटौती ने ग्रामीणों को परेशानियों डाल रखा है। ऐसे भीषण गर्मी के दौर में भी जहां बिजली संकट से जूझना पड़ रहा है। वहीं पानी के लिए परेशान होना पड़ रहा है। मामला जिले के जनपद पंचायत बैहर के अंतर्गत गढ़ी क्षेत्र की करीब दो दर्जन ग्राम पंचायतों का है। इन क्षेत्रों में ग्रामीणों को रोजाना पानी के लिए परेशान होना पड़ रहा है। ग्रामीणों द्वारा शिकायत तो की जाती है, लेकिन सुनवाई नहीं हो पाती है। आलम यह है कि समस्या और विकराल होते जा रही है।
जिले के आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र गढ़ी सहित करीब दो दर्जन पंचायतों में पिछले चार दिनों से लगातार बिजली की आंख मिचौली हो रही है। अघोषित बिजली कटौती से नल-जल योजना चार दिनों से बंद पड़ी है। वहीं ग्रामीणों को पानी नहीं मिल पा रहा है। भीषण गर्मी में लोगों के साथ-साथ बच्चों को भी परेशान होना पड़ रहा है। ११ से लेकर १५ अप्रैल तक गढ़ी क्षेत्र से लगे 23 पंचायतों में बिजली की समस्या बनी हुई है। गढ़ी के समीपस्थ ग्राम नवलपुर, माना, कदला, बलगांव, हीरापुर, भालापूरी, समरिया, धीरी, टोपला, कुकर्रा, पोंडी, बोदा, कुगंाव, अंरडी, धनियाझोर, ईमलीटोला, राम्हेपुर, खजरा, कोयलीखापा, पांडुतला, हट्टा, परसामउ सहित अन्य पंचायतों में पिछले चार दिनों से समस्या बनी हुई है।
नहीं भर पा रहे पानी की टंकी
लो-वोल्टेज और बत्ती गुल रहने से नल-जल योजना की टंकी भी पानी से नहीं भर पा रहे हैं। जिसके कारण यह योजना पिछले चार दिनों से पूरी तरह ठप हो गई है। नल-जल योजना का विगत कई वर्षों से संचालन कर रहे मनोज धारवैया का कहना है कि टंकी को भरने में आठ से दस घंटे लगते हैं और बिजली के न रहने, बार-बार लाइट के ट्रीप होने से टंकी नहीं भर पा रही है। जिसे गढ़ी क्षेत्र कि नल जल योजना पूरी तरह से ठप्प पड़ी हुई हैं। गढ़ी क्षेत्र से लगे 23 पंचायतों में इसी तरह का हाल बना हुआ है।
कृषि कार्य प्रभावित
अघोषित बिजली कटौती से पूरे जिले में कृषि कार्य प्रभावित हो रहा है। खासतौर पर उन किसानों के लिए यह बिजली कटौती आर्थिक तौर पर नुकसान करा रही है, जिन्होंने रबी की फसल लगाई है। किसानों द्वारा विभागीय अमले से अनेक बार शिकायत भी की गई, लेकिन समस्या का निराकरण नहीं हो पाया है।
बिजली आधारित व्यवसाय हो रहे चौपट
गढ़ी क्षेत्र में अघोषित बिजली कटौती से इससे जुड़े सभी व्यवसाय चौपट हो रहे हैं। मौजूदा समय में वैवाहिक सीजन है, ऐसे में व्यापार में तेजी की संभावना रहती है, लेकिन अघोषित कटौती से उनके व्यापार में नुकसान हो रहा है।
मंडला जिले से हो रही बिजली सप्लाई
गढ़ी मुख्यालय सहित क्षेत्र करीब दो दर्जन पंचायतों में मंडला जिले से बिजली की सप्लाई होती है। विद्युत आपूर्ति के लिए केबल का विस्तार जंगलों से किया गया है, जिसके कारण लाइन लॉस होना आम बात हो गई है। इतना ही नहीं किसी भी तरह फॉल्ट आने पर बिजली के बहाल होने का कोई समय ही नहीं होता है। गढ़ी क्षेत्र में यह समस्या पिछले कई वर्षों से बनी हुई है।
शीघ्र हो समस्या का निराकरण
गढ़ी क्षेत्र के ग्रामीण विकास अग्रवाल, उमेश मिश्रा, विकास झारिया, शरद श्रीवास, भागवत नागेश्वर, छोटा श्रीवास, सुशील मिश्रा, तुराफ खान, राजू शांडिल्य, ब्रजेन्द्र रंधवे, चिंटू सिंगला, योगेश धुर्वे, बंटी दुबे, राजेन्द्र जायसवाल, संदीप अग्रवाल सहित अन्य ग्रामीणों ने शीघ्र ही इस समस्या का निराकरण किए जाने की मांग की है। उन्होंने बताया कि बिजली कटौती के चलते सबसे ज्यादा गर्मी और पानी के लिए परेशान होना पड़ रहा है।
पानी की कमी से परेशान तो बिजली कटौती से हो रहे बेहाल
पानी की कमी से परेशान तो बिजली कटौती से हो रहे बेहाल

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

पंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सुनील जाखड़ BJP में शामिल, दिल्ली में जेपी नड्डा ने दिलाई पार्टी की सदस्यताअलगाववादी नेता यासीन मलिक आतंकवाद से जुड़े मामले में दोषी करार, 25 मई को होगी अगली सुनवाईज्ञानवापी मस्जिद-श्रृंगार गौरी विवाद : वाराणसी कोर्ट की कार्रवाई पर सुप्रीम कोर्ट की रोक, शुक्रवार को होगी सुनवाईउदयपुर नव संकल्प पर अमल: अब कांग्रेस भी बनेगी 'प्रोफेशनल', देशभर में 6500 पूर्णकालिक कार्यकर्ता नियुक्त करने की तैयारीअमृतसर से ISI के दो जासूस गिरफ्तार, पाकिस्तान भेजते थे भारतीय सेना से जुड़ी खुफिया जानकारीहरियाणा के झज्जर में फुटपाथ पर सो रहे मजदूरों को ट्रक ने कुचला, 3 की मौत 11 घायलAzam Khan gets interim bail : आजम खान को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत, 89वें केस में मिली अंतरिम जमानत'राज ठाकरे को कोई नुकसान पहुंचाएगा तो पूरा महाराष्ट्र जलेगा', मुंबई में पोस्टर लगाकर MNS ने दी चेतावनी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.