33.80 लाख की लागत से बनाए जाएंगे दो डिवायडर

mukesh yadav

Publish: Sep, 17 2017 05:17:43 (IST)

Balaghat, Madhya Pradesh, India
33.80 लाख की लागत से बनाए जाएंगे दो डिवायडर

मंत्री बिसेन ने किया डिवायडर निर्माण के लिए भूमिपूजन

बालाघाट. शहर की नगरपालिका परिषद द्वारा शनिवार को नगर के दो मुख्य मार्गों में डिवायडर निर्माण के लिए भूमिपूजन कार्यक्रम संपन्न किया गया। कार्यक्रम मप्र शासन के कृषि मंत्री गौरीशंकर बिसेन के मुख्य आतिथ्य व अध्यक्षता नपा अध्यक्ष अनिल धुवारे ने की। पहला भूमिपूजन नगर के रानी अवंती बाई चौक से काली पुतली चौक तक रोड डिवायडर तथा स्थानीय हनुमान चौक से आम्बेडकर चौक तक रोड-डिवायडर के निर्माण के लिए किया गया। जिनका निर्माण 33.80 लाख रुपए की लागत से किया जाएगा।
कॉलोनाइजर्स से वसूला जाए शुल्क
भूमिपूजन के अवसर पर मंत्री बिसेन ने कहा कि नगर में विकास कार्यों की बहुत अधिक संभावना है। हम जितना काम कर रहें हैं, उतना ही अधिक और बेहतर करने के लिए प्रयासरत रहते हैं। मंत्री बिसेन ने अवैध रूप से प्लॉटिंग व कॉलोनी विकसित करने वाले कॉलोनाइजर्स के विरुद्ध नपा में प्रस्ताव पास कर अधिक विकास शुल्क वसूलने की बात कही। ताकि उस राशि से शहर विकास किया जा सकें।
यह रहे उपस्थित
कार्यक्रम की श्रृंखला में दूसरा भूमिपूजन स्थानीय आम्बेडकर चौक पर सम्पन्न हुआ। इस अवसर पर विशेष अतिथि के रूप में जिला पंचायत अध्यक्षा रेखा बिसेन, भाजपा जिला अध्यक्ष रमेश रंगलानी, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक जी. जनार्दन, कलेक्टर डीव्ही सिंह, एसपी अमित सांघी, एएसपी आकाश भूरिया, नगर पुलिस अधीक्षक मोनिका तिवारी, यातायात प्रभारी स्नेहा चंदेल, एसडीएम ओमप्रकाश सनोडिया, मौसम हरिनखेड़े, सुरजीत सिंह ठाकुर, नपा उपाध्यक्ष वीणा कनौजिया, गौरी लिल्हारे सहित नगर के समस्त पार्षदगण व गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे।

किसानों के साथ बैठक १९ सितंबर को
बालाघाट. घने जंगलों से घिरे बालाघाट जिले के किसान पिछले कई वर्षो से जंगली सुकरों के आंतक से परेशान है। पीडि़त किसानों को प्रशासन से कोई राहत नहीं मिल रही है। किसान फिर इस जटील समस्या के निराकरण के लिए पूरी तरह पीडि़त किसानों के साथ लामंबद होकर प्रशासन के कान खड़े किए जाएंगे। उक्ताशय की बात पूर्व भाजपा जिला अध्यक्ष पुरन कुमार आडवानी ने प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से देते हुए बताई है। उन्हांने बताया कि पूर्व में पीडि़त किसानों ने समय-समय पर जंगली सुकरों के द्वारा फसल तबाह करने की शिकायत प्रशासन को दी गई है। लेकिन प्रशासन ने इस समस्या से निजात दिलाने कोई ठोस कदम नहीं उठाए। अत: अब किसान आक्रोशित है, जो समस्या के पूर्णत: निराकरण के लिए हर स्तर पर प्रशासन को चेताने तैयार है। आडवानी ने बताया कि किसानों की इस समस्या को लेकर लांजी मुख्यालय में १९ सितंबर को किसानों के साथ दोपहर ०१ बजे से बैठक रखी गई है। इसी तरह दिनांक ३ अक्टूबर को कटंगी के पठार क्षेत्र बोनकट्टा में ०१ बजे किसानों के साथ बैठक रखी गई है। इस बैठक मे आगामी रणनीति हेतु ठोस निर्णय लिए जाएंगे। आडवानी ने इस बैठक मे क्षेत्र के किसानों से अधिकांश संख्या में उपस्थित होने की अपील की है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned