कहीं नल नदारद तो कहीं जल की किल्लत

एक माह बंद पड़ी नलजल योजना
पेयजल के लिए परेशान हो रहे ग्रामींण

By: mukesh yadav

Published: 21 May 2020, 09:26 PM IST


कोचेवाही. वारासिवनी की ग्राम पंचायत सेरपार में नल जल योजना बेपटरी होती दिख रही है। इस योजना के क्रियान्यवन को लेकर जिम्मेदारों द्वारा अनदेखी किए जाने से लोगों को इस योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा है। ग्रामीण क्षेत्र में अधिकांश ग्राम पंचायतों में ऐसे ही हालात है। कहीं नल नहीं लग पाए हैं, तो कहीं जल की किल्लत है। स्थानीयजनों के अनुसार सेरपार में यह नल जल योजना वर्षो पहले हथकरघा बुनकर विभाग द्वारा लगाई गई थी। जिसका मेंटनेंस पीएचई विभाग द्वारा किया जाता हैं। पिछले करीब 30 दिनों से योजना ठप है। ग्रामीण लोग पानी के लिए हैंडपम्पों का सहारा ले रहे हैं। हैंडपंप में हर प्रकार के लोग पानी भरने आ रहे हैं। इस कारण गांव में कोरोना संक्रमण की आशंका भी सता रही है।
ग्रामीणों ने बताया कि उनके द्वारा एक कनेक्शन के प्रति माह 50 रुपए कर के रूप में दिए जाते हैं। उसके बाद भी नल जल योजना के माध्यम से मिलने वाले पेयजल की की आपूर्ती बंद कर दी गई है। इस बारे में ग्राम पंचायत सेरपार सचिव तरुण हनवत ने बताया कि नलजल योजना क्रियान्वयन हमारे द्वारा नहीं किया जाता हैं और योजना अब तक ग्राम पंचायत को नहीं सौंपी गई है। वहीं योजना के ऑपरेटर मंथन सुमनगड़े ने बताया कि यह नल जल योजना हथकरघा बुनकर विभाग द्वारा लगाई गई थी। जिसका स्टाटर खराब होने के कारण योजना बंद है। इसकी सूचना पीएचई विभाग को दी जा चुकी है। जिनके द्वारा स्टाटर की व्यवस्था कर योजना के तहत पानी की आपूर्ती की जाएगी।

mukesh yadav Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned