मध्यम कुपोषित श्रेणी में आने वाले बच्चो पर किया जा रहा कार्य

मध्यम कुपोषित श्रेणी में आने वाले बच्चो पर किया जा रहा कार्य

बालाघाट. आयुष विभाग बालाघाट द्वारा कुपोषण नियंत्रण कार्यक्रम के अंतर्गत जिले में पदस्थ आयुर्वेद चिकित्सा अधिकारियों द्वारा अपने पदस्थापना वाले ग्राम में यह कार्यक्रम चलाया जा रहा है । आंगनबाड़ी केन्द्रों में स्थित मध्यम श्रेणी में आने वाले कुपोषित बच्चों का ही उपचार आयुर्वेद औषधी द्वारा किया जा रहा है। अति कुपोषित श्रेणी में आने वाले बच्चों को तत्काल एनआरसी जिला चिकित्सालय बालाघाट भेजने के लिए स्पष्ट निर्देश डॉ मेश्राम नोडल अधिकारी बाल कुपोषण कार्यक्रम को दिए गए है।
जिला आयुष अधिकारी डॉ. शिवराम साकेत ने बताया कि जिले में 16 ग्रामों में यह कार्यक्रम चलाया जा रहा है। जिसमें प्रथम चरण के लिए 94 मध्यम श्रेणी येलो लाइन में आने वाले मध्यम कुपोषित बच्चों का उपचार सपुष्टि चूर्ण, बला तेल, अरविंदासव द्वारा किया जा रहा है। अति कुपोषित श्रेणी रेड लाइन में आने वाले बच्चों को त्वरित उपचार कर एनआरसी जिला चिकित्सालय बालाघाट जाने के लिए परामर्श दिया जा रहा है। प्रथम चरण अंतर्गत द्वितीय शिविर 22 जनवरी को रखा गया है। इस कार्यक्रम ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहायिका, औषधी संयोजक, महिला आयुर्वेद स्वास्थ्य कार्यकर्ता, औषधालय सेवक का विशेष सहयोग लिया जाएगा।

Bhaneshwar sakure Bureau Incharge
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned