श्रमिकों की समस्याओं को लेकर मजदूरों ने दिया धरना

श्रमिकों की समस्याओं को लेकर मजदूरों ने दिया धरना

Bhaneshwar Sakure | Publish: Jul, 26 2019 09:08:04 PM (IST) Balaghat, Balaghat, Madhya Pradesh, India

खदान प्रबंधन के खिलाफ खोला मोर्चा

बालाघाट/वारासिवनी. क्षेत्र के ग्राम रमरमा में संचालित मैगनीज खदान में कार्यरत श्रमिकों ने खदान के सामने ही धरना देकर प्रदर्शन किया। श्रमिकों द्वारा अलग-अलग मांगों को लेकर यह प्रदर्शन किया गया। इस दौरान करीब दो सैकड़ा श्रमिक मौजूद थे।
मजदूरों के अनुसार उन्हें नियमित करने, खदान से न निकाले जाने और भविष्य निधि काटे जाने सहित अन्य समस्याओं को लेकर यह प्रदर्शन किया गया। इधर, श्रमिकों द्वारा प्रदर्शन किए जाने की सूचना पर खदान के मैनेजर जेपी यादव मौके पर पहुंचे। उन्होंने प्रदर्शनकारी श्रमिकों से चर्चा की। लेकिन श्रमिकों और खदान प्रबंधन के बीच वार्ता विफल रही। मजदूरों ने बताया की इस हड़ताल में शामिल कुछ मजदूर अंडरग्राउंड माइन में काम करने वाले भी है, जिन्हें सुरक्षा संबंधी शिकायते हैं। लेकिन इसकी सुनवाई न तो खदान संचालक और न ही खदान के मैनेजर यादव द्वारा की जा रही है। जिसके कारण मजदूरों की जान से रोजाना खिलवाड़ हो रहा है। खदान के अंदर न ही पीने के पानी की व्यवस्था है न किसी प्रकार का बीमा इन मजदूरों का किया गया है। इतना ही नहीं चिकित्सीय सुविधा का इंतजाम भी ठीक तरह से इन्हें मिल पाता है। मजदूरों का कहना है कि यदि उनकी मांगे नहीं मानी जाती है तो यह धरना प्रदर्शन आगे भी जारी रहेगा। यूनियन अध्यक्ष संतोष मंडलवार ने जानकारी देते हुए बताया कि प्रदर्शन के 10 दिन पूर्व ही संघ द्वारा सभी संबंधित विभागों व खदान संचालकों को इसकी सूचना दे दी गई थी। लेकिन जब इन मांगों पर किसी ने ध्यान नहीं दिया तो उन्हें विवश होकर हड़ताल करना पड़ा। उन्होंने कहा कि रोजगार की कमी व अपने पारिवारिक जरूरतों के मद्देनजर ग्रामीण खदान संचालकों के शोषण को सहते आ रहे हैं। अनेक बार मौखिक व लिखित शिकायत किए जाने के बाद भी उनकी समस्या का कोई निराकरण नहीं हो पा रहा है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned