इन तिथियों पर कराएंगे मुंडन संस्कार तो गंगा घाट पर तैनात रहेंगे आपदा मित्र, ताकि न हो कोई हादसा

जिलाधिकारी ने बताया कि ये आपदा मित्र, होमगार्ड और पीआरडी विभाग के प्रशिक्षित जवान हैं, इनका उद्देश्य संयोगवश कोई घटना होने पर तत्काल बचाव करना होगा

बलिया. पिछले कई सालों से ऐसी घटनाएं सामने आ रही हैं जिनमें गंगा घाट पर मुंडन संस्कार के लिए जाने वाले परिवारों को कई बार हादसे का शिकार होना पड़ता है। ज्यादातर ऐसा होता है कि इस समय स्नान करने के लिए जाने वाले बच्चों गंगा में डूबने की बात भी सामने आती है। इसी को देखते हुए बलिया के जिलाधिकारी भवानी सिंह खंगारोत ने मुंडन संस्कार के कुछ विशेष तिथियों पर गंगा घाट के किनारे आपदा मित्रों को तैनात करने का निर्देश दिया है। जिलाधिकारी ने बताया कि ये आपदा मित्र, होमगार्ड और पीआरडी विभाग के प्रशिक्षित जवान हैं, इनका उद्देश्य संयोगवश कोई घटना होने पर तत्काल बचाव करना होगा।

इन तिथियों पर रहेंगे तैनात

जिलाधिकारी ने कहा कि मुंडन की तिथियों को देखते हुए इनकी तैनाती जून के महीने में 6, 7, 12, 13, 14, 27, 28 तारीख को होगी। वहीं जुलाई महीने की 3, 4, 10 व 11 तारीख को इन्हे तैनात किया जाएगा।

किन घाटों पर रहेंगे मौजूद

बताए गये तिथियों पर इन्हे गंगा नदी के श्रीरामपुर घाट, गायघाट, पचरुखिया, मझौवा, बेयासी, जवही समेत कुछ अन्य गंगा घाटों प इन्हे लगाया जायेगा जिन घाटों पर मुंडन संस्कार के लिए लोगों के पहुंचने की मान्यता है।

Ashish Shukla Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned